चंदौली जिले के धानापुर इलाके के एक अंबेडकर स्थल पर किये जा रहे अतिक्रमण को मुद्दा बनाकर कस्बा स्थित ब्लॉक नहर के समीप धानापुर-डेढावल मार्ग पर चक्काजाम करना बभनियाव गांव के 23 ग्रामीणों को मंहगा पड़ गया। पुलिस ने सभी के विरुद्ध न केवल आपराधिक मुकदमा दर्ज किया है। बल्कि उन्हें गिरफ्तार कर जेल भी भेज दिया है। इस घटना को लेकर गांव में सन्नाटा पसर गया है।

बताया जा रहा है कि क्षेत्र के बभनियाव रायपुर गांव के लोगो का कहना है कि उनके गांव स्थित 25 डिसमिल ग्राम समाज के भीटा में 10 डिसमिल भूमि पर बाबा साहेब डॉ. भीमराव अंबेडकर की मूर्ति, कुंआ, वाचनालय व पार्क बना है। जिस पर कुछ दिनों पहले गांव के श्रीपति राम जबरन कब्जा करने लगे। ग्रामीणों ने थाने में जाकर हंगामा किया। जिसपर पुलिस ने दोनोa पक्ष से एक एक लोगों को शांति भंग की धारा में जेल भेज दिया था।

बुधवार को एक बार फिर दोपहर 12 बजे के आसपास श्रीपति राम उक्त भूमि पर दोबारा अतिक्रमण करने लगा। जिसे देख ग्रामीण बवाल मचाने लगे। सूचना पाकर पहुंची पुलिस ने एसडीएम के निर्देशन में मापी होने तक शांति व्यवस्था बनाये रखने के उद्देश्य से काम रोकवा दिया। इसके बाद शाम को कुछ शरारती तत्वों के उकसावे पर ग्रामीण ब्लॉक नहर पर जमा होकर धानापुर-ढेडावल मार्ग पर चक्काजाम कर दिया।

आरोप है कि इस दौरान राहगीरों के साथ भी अभद्रता की गई। यह देख पुलिस ने बभनियाव गांव निवासी बसपा नेता त्रिलोकी राम, सहित सुनील राम, अच्छन, रमेश, भरत, पत्तू, सुखदेव, ऋषि, गिरधारी, सुजीत, सहदेव, दीपक राम, पंकज, विजय, बबलु, देवमूर्त, सुनील, अरबिंद, राधेश्याम, श्रीराम अशोक कुमार, अनिल कुमार, संदीप आदि 23 लोगों को हिरासत में ले लिया। और उनके विरुद्ध धारा 143, 188, 283, 341,352, 405, 406 आईपीसी के तहत नामजद मुकदमा दर्ज कर सभी को जेल भेज दिया।

मामले पर थाना प्रभारी विनोद मिश्रा का कहना है कि दोपहर 2 बजे से 4 बजे तक अनावश्यक रूप से सड़क जाम कर आवागमन को रोक दिया गया था। ऐसे में कानूनी कार्रवाई कर जेल भेज दिया गया।