चंदौली जिले में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देशानुसार नौ अगस्त को जनपद में 31 लाख पौधों का रोपण किया जाएगा। पौधारोपण कार्यक्रम सुबह सात बजे से आरंभ होगा। प्रत्येक ग्राम पंचायत में 200 पौधे लगाने का लक्ष्य रखा गया है। जोनल व सेक्टर मजिस्ट्रेट अभियान पर नजर रखेंगे। हर घंटे अभियान की प्रगति की रिपोर्ट भी भेजते रहेंगे। जिलाधिकारी नवनीत सिंह चहल ने गुरुवार को कलेक्ट्रेट में अधिकारियों संग बैठककर अभियान के प्रगति का हाल जाना।

डीएम ने कहा पौधारोपण के लक्ष्य को हर हाल में पूरा करना होगा। इसमें किसी प्रकार की कोताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। सेक्टर मजिस्ट्रेट अभियान के दौरान लगातार चक्रमण करते रहेंगे। हर घंटे की रिपोर्ट खंड विकास अधिकारियों को देंगे। बीडीओ अर्थ व संख्या अधिकारी को रिपोर्ट देंगे। डीएसटीओ के माध्यम से रिपोर्ट सीडीओ के पास पहुंचेगी। सीडीओ डीएफओ कार्यालय में स्थापित कंट्रोल रूम में फाइनल रिपोर्ट भेजेंगे।

डीएफओ कार्यालय से सीएम आफिस लखनऊ हर घंटे की रिपोर्ट जाएगी। इसके जरिए पता चलता रहेगा कि कितने पौधों का रोपण किया गया। बताया कि ग्राम पंचायतों में 200-200 पौधे लगवाने का लक्ष्य रखा गया है। सुबह से ही ग्राम पंचायत सचिव पौधारोपण कराने में जुट जाएं। वहीं विभागाध्यक्ष भी लक्ष्य के अनुरूप पौधारोपण कराएं। ताकि शाम तक पौधारोपण का काम पूरा किया जा सके। पौधों के निगरानी की भी व्यवस्था की गई है।

रोजगार सेवक और ग्राम पंचायत सचिव वृक्ष अभिभावक की भूमिका अदा करते हुए पौधों का संरक्षण व देखभाल करेंगे। मनरेगा मजदूरों की भी मदद ली जाएगी। इसके बदले उन्हें मजदूरी का भुगतान किया जाएगा। लेकिन पौधे नष्ट होने पर मानदेय में कटौती कर पौधे खरीदकर लगाए जाएंगे।

सीडीओ डा. एके श्रीवास्तव, डीएफओ आरपी सिंह, सीएमओ डा. आरके मिश्रा, एडीएम बच्चालाल, डीडीओ पदमकांत शुक्ला, कृषि उपनिदेशक विजय सिंह, डीआइओएस डा. विनोद कुमार राय, बीएसए भोलेंद्र प्रताप सिंह, जिला कृषि अधिकारी राजीव कुमार भारती समेत विभागाध्यक्ष मौजूद थे।