चंदौली जिले के नक्सल प्रभावित क्षेत्र नौगढ़ इलाके के शमशेरपुर निवासी अमित सिंह ने भी राज्य लोकसेवा आयोग, 2017 की परीक्षा में अपना परचम लहराया है। 2016 की परीक्षा में DSP के बाद 2017 की परीक्षा में नगर आयुक्त के लिए चयनित हुए। लगातार दूसरी बार पीसीएस की परीक्षा पास कर जनपद का नाम रौशन किया है। अमित सिंह को नगर आयुक्त पद पर सफलता मिली है।

इस संबंध में नौगढ़ ब्लाक प्रमुख सुजीत सिंह सुड्डू ने बताया कि छोटे भाई अमित सिंह ने इंटरमीडिएट तक की शिक्षा सनबीम भगवानपुर लंका, वाराणसी से हासिल करने के उपरांत यूपी कॉलेज से स्नातक की उपाधि हासिल की थी। इसके बाद वह पीसीएस परीक्षा की तैयारी में जुट गये थे। उन्होंने बताया कि अमित इलाहाबाद विश्वविद्यालय के हास्टल में रहकर सिविल सेवा की तैयारी कर रहे थे। अमित सिंह को नगर आयुक्त बनने पर जनपद चंदौली में जश्न का माहौल है ।

सूर्यबली ने लहराया परचम

2017 के जारी हुए परिणाम में चयनित सूर्यबली मौर्य, साहुपुरी गाँव के निवासी हैं। सूर्यबली ने अपना इंटरमीडिएट रामनगर से किया है। वहीं उन्होंने अपने स्नातक की उपाधि हिन्दू पीजी कॉलेज जमानियां से प्राप्त की है। इसके पश्चात वह UPPSC की तैयारी के लिए इलाहाबाद चले गये। जहाँ से अथक प्रयास के बाद, पूर्व में उन्होंने UPPSC में नायब तहसीलदार के लिए क्वालीफाई किया और वर्तमान में वह सोनभद्र जनपद के दुद्धी तहसील में नायब तहसीलदार के पद पर कार्यरत हैं।

अभी लगभग 1 माह पूर्व ही उन्होंने ज्वाइनिंग की थी। अब नायब तहसीलदार से आगे जाकर डीएसपी के पद को प्राप्त कर लिया है।

इसके अलावा नरवन के लाल बैजनाथ सिंह ने पीसीएस में जिला उद्यान अधिकारी का पद पाकर जनपद का नाम रोशन किया है। कम्हरिया गांव निवासी दयाशंकर सिंह के छोटे पुत्र बैजनाथ सिंह ने प्रारंभिक शिक्षा गांव के प्राथमिक व उच्च प्राथमिक विद्यालय में ग्रहण की। वहीं मझवार खास निवासी गोविद मौर्या के पुत्र राधेश्याम सिंह मौर्य ने सफलता हासिल की है। पिता कैंट डिपो में रोडवेज चालक है। प्रारंभिक शिक्षा जूनियर हाईस्कूल आलोक इंटर कालेज से की। वहीं सकलडीहा पीजी कॉलेज के एसोसिएट प्रोफेसर डा. शिव सहाय सिंह यादव की पुत्रवधू डा. प्रियंका यादव का पीसीएस में चयन हुआ है। वह मूलरूप से गाजीपुर जनपद के सैदपुर के निवासी हैं।