मुख्य विकास अधिकारी डा. एके श्रीवास्तव ने  विकास भवन स्थित कार्यालय में निर्वाचन विभाग (पंचस्थानी) के अधिकारियों व कर्मचारियों के साथ बैठक करके त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव की तैयारियों पर चर्चा करने के बाद से ऐसा लगने लगा है कि सरकार जल्द ही इसके बारे में फैसला ले सकती है। अफसरों को इस संदर्भ में आयोग के निर्देशों से अधिकारियों को अवगत कराया गया है।

मुख्य विकास अधिकारी डा. एके श्रीवास्तव ने कहा कि आयोग के निर्देशानुसार त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव को लेकर तैयारियां शुरू कर दी गई हैं।

इस बार 2100 से अधिक बूथ बनाए जाने की संभावना है। कहा कि आयोग ने ग्राम प्रधान, क्षेत्र पंचायत सदस्य, ग्राम पंचायत सदस्य और जिला पंचायत सदस्य पद के लिए एक साथ चुनाव कराने का निर्णय लिया है। इससे मतदाताओं को वोट डालने में अधिक समय लग सकता है। इसको देखते हुए 725 मतदाताओं पर एक बूथ बनाने की योजना है।

प्रत्येक मतदान केंद्र पर अधिकतम छह बूथ बनाए जाएंगे। कहा कि सुरक्षा व्यवस्था के दृष्टिगत किसी भी मतदान केंद्र पर छह से अधिक बूथ नहीं बनाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि 24 जनवरी से मतदाता सूची पुनरीक्षण की प्रक्रिया शुरू होगी। नामावली के अंतिम प्रकाशन के बाद परिसीमन का निर्धारण किया जाएगा। मतदाता सूची का पुनरीक्षण होने के बाद मतदाता की संख्या के हिसाब से बूथों का निर्धारण होगा। वहीं नामावली के अंतिम प्रकाशन के बाद परिसीमन की प्रक्रिया शुरू होगी।