चंदौली जिले के सांसद व देश के कौशल विकास व उद्यमिता मंत्री डा. महेंद्रनाथ पांडेय की अध्यक्षता में शनिवार की रात कलेक्ट्रेट सभागार में निगरानी समिति की बैठक हुई। इसमें धान के कटोरे के विकास को लेकर विस्तार से चर्चा हुई। सांसद ने बंधी प्रखंड की ओर से कराए जाने वाले कार्यों की धीमी प्रगति पर गहरी नाराजगी जताई। अब तक कराए गए कार्यों की जांच कराने के निर्देश दिए। उन्होंने लंबित विकास कार्यों और परियोजनाओं को शीघ्र पूरा करने पर बल दिया। जिले के सर्वांगीण विकास को ब्लाक स्तर पर नोडल अधिकारियों की तैनाती के निर्देश दिए। ताकि तेजी से जिले का विकास हो सके।

सांसद ने कहा  कि पिछली बैठकों में शामिल मुद्दों का हर हाल में निस्तारण किया जाना चाहिए। इसमें किसी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। उन्होंने बंधी प्रखंड के अधिकारियों से अब तक कराए गए कार्यों के बाबत विस्तार से जानकारी मांगी। लेकिन एक्सईएन रिपोर्ट लेकर नहीं आए थे। इस पर सांसद भड़क उठे। उन्होंने विभाग की ओर से अब तक कराए गए सारे कार्यों की जांच कराने के निर्देश दिए। कहा शासन स्तर से किसानों की मदद को तमाम योजनाएं संचालित की जा रही हैं। अधिकारियों की ओर से योजनाओं के क्रियान्वयन में उदासीनता पर कार्रवाई तय है।

कौशल विकास के क्षेत्र में बेहतर काम होना चाहिए। ताकि आकांक्षात्मक जिले के युवाओं को रोजगार के लिए भटकना न पड़े। अधिकारी इसकी पड़ताल करें कि पिछले साल कितने युवाओं को नौकरी दिलाई गई थी। इसमें कितने युवाओं ने नौकरी छोड़ दी। नौकरी छोड़ने के पीछे क्या कारण रहा। उन्होंने सड़कों के जीर्णोद्धार के बाबत भी जानकारी ली। कहा प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत अब तक जितनी सड़कों की मरम्मत व निर्माण कराया गया है, उनकी सूची जनप्रतिनिधियों को अवगत कराएं।

विधायक सड़कों की जांच कर गुणवत्ता परखें। साथ ही इसके बाबत अवगत कराएं। सांसद ने जिले के सर्वांगीण विकास पर जोर दिया। बोले, जिले के बहुमुखी विकास के लिए जिलाधिकारी की ओर से ब्लाक स्तर पर नोडल अधिकारियों की टीम गठित की जाए। अधिकारी विकास कार्यों की जांच कर रिपोर्ट अवगत कराएं। ग्राम समाज की जमीन पर भूमिहीन को पट्टा करने का सुझाव दिया। खराब हैंडपंपों की मरम्मत कराने के निर्देश दिए। बोले ट्रामा सेंटर के निर्माण में किसी तरह की सुस्ती नहीं बरती जानी चाहिए। निर्धारित समय के अंदर निर्माण कार्य पूरा किया जाए। ताकि मरीजों को बेहतर चिकित्सा सुविधा का मार्ग प्रशस्त हो सके।

जिला पंचायत अध्यक्ष सरिता सिंह, राव‌र्ट्सगंज सांसद पकौड़ी लाल कोल, जिलाधिकारी नवनीत सिंह चहल, एसपी हेमंत कुटियाल, एमएलसी चेतनारायण सिंह, चकिया विधायक शारदा प्रसाद, मुख्य विकास अधिकारी डा. एके श्रीवास्तव, डीएफओ आरपी सिंह, सीएमओ डा. आरके मिश्रा, डीडीओ पदमकांत शुक्ला, कृषि उपनिदेशक विजय सिंह, परियोजना निदेशक सुशील कुमार समेत विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।