खराब मिठाई देख गुस्से से लाल हुए DM साहब, छापेमारी करने का फरमान जारी

खराब मिठाई देख गुस्से से लाल हुए DM साहब, छापेमारी करने का फरमान जारी

चंदली जिले के डीएम नवनीत सिंह चहल खराब मिठाई देख नाराज हो गए। तत्काल ही खाद्य एवं औषधि विभाग के अधिकारियों व कर्मियों को कलक्ट्रेट स्थित कार्यालय में तलब कर लिया। उन्होंने जमकर फटकार लगाते हुए कहा कि जांच के नाम पर सिर्फ खानापूर्ति की जा रही है। इसमें सुधार लाया जाए। अन्यथा कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने उक्त दुकान पर छापेमारी करने का निर्देश भी दिया।

 

जिलाधिकारी सोमवार को कलक्ट्रेट में फरियादियों की समस्याओं का निस्तारण कर अपने कार्यालय में बैठे थे। इस बीच दीपावली पर मिले बंद मिठाई के डिब्बे को एक कर्मी ने उनके पास पहुंचा दिया। लेकिन मिठाई की हालत देख स्टेनों को बुलाकर डिब्बे पर लिखे दुकान के सम्बंध में जानकारी प्राप्त की। वहीं खाद्य एवं औषधि विभाग के अधिकारियों व कर्मियों को कार्यालय में तलब कर लिया। आनन-फानन में अधिकारी उनके कार्यालय में पहुंच गए।

डीएम ने डिप्टी अभिहित अधिकारी चंद्रकांत को मिठाई दिखाते हुए जमकर फटकार लगाई। कहा कि बाजार में मिलावटी सामानों की बिक्री की जा रही है। लेकिन जांच के नाम पर सिर्फ खानापूर्ति की जा रही है।

 

चेताया कि कार्यों में सुधार लाया जाए। बाजार में मिलावटी मिठाई कत्तई नहीं बिक्री की चाहिए। उन्होंने डिब्बे पर अंकित प्रतिष्ठान पर जांच का आदेश भी दिया। इसपर खाद्य विभाग की टीम ने कचहरी के पास स्थित उक्त प्रतिष्ठान पर पहुंचकर करीब तीन घंटे तक मिठाईयों की जांच पड़ताल की।

 

इस दौरान तीन मिठाईयों का सैम्पल लिया। उसे जांच के लिए लैब भेज दिया गया। इससे हड़कम्प की स्थिति बनी रही। जांच टीम में नेहा त्रिपाठी, रमेशचंद्र, ज्ञानप्रकाश पटेल, कुमार चित्रसेन आदि शामिल रहे।

Comments

comments