मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना का लाभ दिलाने के बहाने गैंगरेप

चहनियां। चंदौली जिले के बलुआ थाना क्षेत्र के एक गांव की 21 वर्षीया युवती को दो अनजान युवक मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के तहत लाभ दिलाने के बहाने उसके घर से अपने साथ ले गए। पूरी रात युवती को बंधक बनाकर सामूहिक दुष्कर्म के बाद मंगलवार की सुबह फगुइयां गांव के समीप छोड़कर फरार हो गए। पुलिस दोनों फरार आरोपितों के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज कर तलाश में जुटी है।

बलुआ थाना क्षेत्र के एक परिवार की 21 वर्षीया युवती की जून में शादी तय हुई है। पिता का निधन हो जाने से भाई दूसरे प्रांत में एक निजी फर्म में काम करता है। घर पर मां और दो बेटियां रहती है।

आरोप है कि धानापुर थाना क्षेत्र के दीयापुर प्रसहटां निवासी संतोष यादव और बलुआ थाना क्षेत्र के खोनपुर निवासी पुष्कर यादव सोमवार की दोपहर लगभग तीन बजे युवती के घर पहुंचे। युवती की मां को झांसे में लेकर मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के तहत लाभ दिलाने की बात कही।

युवती को जरूरी कागजात के साथ चहनियां ब्लॉक में फार्म भरने और साइन करने की बात कही। इससे बाद दोनों युवक बाइक पर बैठाकर युवती को अपने साथ ले गए, लेकिन पूरी रात युवती घर नहीं लौटी। परिजन देर रात खोजबीन करते रहे। यहां तक कि पुलिस को भी सूचना दी गई।

दूसरे दिन मंगलवार की सुबह लगभग सात बजे फगुइयां गांव के समीप युवती को छोड़कर दोनों आरोपित फरार हो गए। युवती ने घर पहुंचकर परिजनों को आपबीती बतायी। घटना की जानकारी होने पर आस‌ पास के ग्रामीण भी जुट गए।

ग्रामीणों और परिजनों के साथ पीड़ित युवती ने बलुआ थाने पहुंचकर दोनों आरोपितों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया। थानाध्यक्ष घनश्याममणि त्रिपाठी ने बताया कि आरोपितों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तार करने का प्रयास किया जा रहा है। युवती को महिला पुलिस की अभिरक्षा में मेडिकल जांच के लिए भेजा गया है।

Comments

comments