चंदौली । शांतिकुंज हरिद्वार के तत्वावधान में बहेरी गांव में चार दिवसीय गायत्री महायज्ञ का आयोजन किया गया है। जिसमें यज्ञ, प्रवचन व संस्कार का कार्यक्रम संपन्न किया जाएगा।

कार्यक्रम की शुरुआत 9 अक्टूबर शनिवार को गायत्री शक्तिपीठ बहेरी से कन्याओं व महिलाओं के द्वारा जल कलश यात्रा कलश यात्रा बहेरी गांव से प्रारंभ होकर जनौली, कमालपुर, जमुरखा होते हुए गायत्री शक्ति पीठ बहेरी के प्रांगण में समाप्त होगया। इसके बाद शाम को संगीतमय प्रवचन का आयोजन किया जाएगा। दूसरे दिन रविवार को प्रातः सामूहिक जप, ध्यान, प्रज्ञा योग व्यायाम, गायत्री महायज्ञ, संस्कार, युवा सम्मेलन और शाम को संगीतमय प्रवचन होगा।

तीसरे दिन 11नवम्बर को प्रातः सामूहिक जप, ध्यान, प्रज्ञा योग व्यायाम, गायत्री महायज्ञ, संस्कार, कार्यकर्ता गोष्ठी और शाम को संगीतमय प्रवचन सहित दीपयज्ञ का कार्यक्रम सम्पन्न होगा। चौथे दिन 12 नवम्बर को प्रातः सामूहिक जप, ध्यान, प्रज्ञा योग व्यायाम, गायत्री महायज्ञ, संस्कार के साथ पूर्णाहुति और शांतिकुंज से आयी हुई टोली की विदाई होगी। गायत्री परिवार के मुख्य ट्रस्टी बृजराज चौबे ने बताया कि कार्यक्रम के दौरान संस्कार निःशुल्क सम्पन्न किया जाएगा। इसमें पुंसवन, नामकरण, मुंडन, विद्यारम्भ, यज्ञोपवीत, दीक्षा, विवाह शामिल है। इस मौके पर सुनील उपाध्याय, श्रवण कुमार यादव, जयन्त सिंह, डॉ विनोद,आनन्द,शिवसखा सिंह,राकेश सिंह , सच्चिदानंद रहित अन्य रहे।