पूर्वा एक्सप्रेस में सवार 18 वर्षीय हाकिम अंसारी रविवार की भोर साढ़े चार बजे कुचमन स्टेशन के समीप गिर गया। घटनास्थल पर ही उसकी मौत हो गई। हाकिम अंसारी दिल्ली से अपने भाई के साथ बकरीद पर बिहार घर लौट रहा था। जीआरपी ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम को भिजवाया। घटना की जानकारी होते ही परिजनों में मातम छा गया।

बिहार के भोजपुर जिला हरडीहा का हाकिम अंसारी अपने बड़े भाई तैयब अंसारी के साथ दिल्ली में प्राइवेट फर्म में काम करता था। हाकिम अंसारी व तैयब अंसारी दोनों छुट्टी लेकर पूर्वा एक्सप्रेस के जनरल कोच में सवार होकर बकरीद पर घर लौट रहे थे। ट्रेन रविवार की भोर सवा चार बजे पीडीडीयू स्टेशन से रवाना हुई। ट्रेन जैसे ही कुचमन स्टेशन के समीप पहुंची। बोगी के गेट पर खड़ा हाकिम अंसारी गिर गया। घटनास्थल पर ही उसकी मौत हो गई।

हादसे के बाद अन्य यात्रियों ने शोर मचाया, तो बोगी में भाई तैयब अंसारी को पता चला। तैयब ने तत्काल ट्रेन को चेनपुलिंग कर रोक दिया। घटना की जानकारी होते ही जीआरपी भी पहुंच गई। जीआरपी कोतवाल आरके सिंह ने बताया कि शव का पोस्टमॉर्टम कराने के बाद परिजनों को सौंप दिया गया।