कांसेप्ट फोटो

सपा बसपा के गठबंधन द्वारा लोक सभा की सीटों की फाइनल लिस्ट जारी होने के बाद चन्दौली में सपा दावेदारों में जहां खुशी का माहौल देखा जा रहा है, वहीं बसपा दावेदारों में मायूसी झलक रही है। पर भाजपा नेताओं का कहना है कि आसानी से भाजपा चंदौली में एकबार फिर जीत हासिल कर लेगी।

लोकसभा चुनाव को लेकर के जहां बीजेपी को हराने के लिए सभी विपक्षी दल एकजुट हो गए हैं वही प्रदेश में सपा बसपा के गठबंधन द्वारा आज सीटों के बंटवारे की सूची जारी करने के बाद चंदौली सपा के खाते में आवंटित होने पर सपा के पूर्व सांसद रामकिशुन ने कहा है कि यह सीट सपा को मिली है और जीत भी मिलेगी ,मैं जनता के बीच में रहने वाला नेता हूं मैं फिर गठबंधन का प्रत्याशी बनूंगा और जीत दिलाकर के अपने नेताओं को मजबूत करुगा ।

सपा के सैदराजा के पूर्व विधायक मनोज सिंह डब्लू ने बताया कि गठबंधन के दोनों आला नेताओं के सहमति से सपा को सीट मिली है और मैं भी पार्टी के लिए चंदौली लोकसभा का दावेदार हूं और इस दावेदारी में जो भी गठबंधन के नेता हमारे अखिलेश यादव जी और सुश्री मायावती जी का निर्देश होगा उनके अनुसार गठबंधन के प्रत्याशी को जीत दिलाई जाएगी वहीं बसपा के लोक सभा के प्रमुख दावेदार माने जाने वाले पूर्व एमएलसी विनीत सिंह ने बताया कि पार्टी धर्म का निर्वाहन करते हुए बंधन के प्रत्याशी को जीत दिलाया जाएगा ।

भाजपा के जिलाध्यक्ष सर्वेश कुशवाहा ने बताया कि अब भाजपा के लिए जीत और आसान हो गीयी है हालांकि इन पार्टियों का पुराना इतिहास रहा है कि सीट और प्रत्याशी को अंतिम समय तक बदलते रहते हैं गठबंध की सीट क्या होगी, कौन प्रत्याशी होगा किसकी सीट होगी यह कहना इस गठबंध के लिए विश्वसनीय नहीं है, लेकिन वर्तमान स्थिति में सपा को अगर सीट दी गई है तो बीजेपी की जीत और आसान तरीके से होगी।

लोकसभा के चुनाव की रणभूमि का खाका अब अपना मूर्त रूप लेने लगा है, अब देखना है कि गठबंधन के कौन प्रत्याशी होते है और आगे की रणनीति क्या होती है।