वारंटी को पकड़ने गयी पुलिस पर हमला, कई पुलिसकर्मी घायल

वारंटी को पकड़ने गयी पुलिस पर हमला, कई पुलिसकर्मी घायल

चन्दौली जिले के बलुआ थाना क्षेत्र के मथेला गाव में वर्ष 1987में बलुआ पुलिस की हत्या के मामले में वांछित चिन्तामणी त्रिपाठी पुत्र हरिद्वार त्रिपाठी हत्या के अभियेग दर्ज किया गया था। अभियुक्त कोर्ट में हाजिर नहीं हो रहा था। जिसे कोर्ट ने वांरट जारी कर दिया दिया था। जिसकी तामील करते हुए बलुआ थानाध्यक्ष धीरेन्द्र कुमार सिंह ने हमराहियों के साथ गांव में पहुंचकर निर्धारित तिथि पर पेश करने लिए उसे गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार होते देख परिजन आग बबूला हो गये और पुलिस दल पर टूट पड़े।

जानकारी के अनुसार मथेला गाव निवासी चिन्तामणि त्रिपाठी कोर्ट में हाजिर नहीं हो रहे जिस पर बलुआ थानाध्यक्ष मय हमराही सेमवार की देर शाम अभियुक्त के घर पकड़ने पहुंचे और गिरफ्तार कर लिया । गिरफ्त में आने के बाद परिजन पुलिस दल पर हमला बोल दिए जिसमें बलुआ थानाध्यक्ष धीरेन्द्र कुमार सिंह, हमराही गौरव सिंह, शैलेष कुमार, शशिकान्त दूबे घायल हो गये।

 

इस संबंध में बलुआ थानाध्यक्ष ने बताया कि वारंटी के पकड़ने के दौरान परिवार के महिलायें व लड़के ने हमला बोल दिए और पुलिस दल से जमकर मारपीट की। जिसमें हमराही सहित थानाध्यक्ष घायल हो गये। बलुआ थानाध्यक्ष ने पुलिस अधीक्षक को सूचना दिया। जिस पर धानापुर, धीना, सकलडीहा सहित थानों की फोर्स सहित एडीशनल एसपी देवेन्द्र नाथ दूबे, सीओं सदर प्रदीप सिंह चन्देल मौके पर पहुंच कर घटना की जानकारी लेते हुए कार्रवाई करने का ओदश दिया।

Comments

comments