चंदौली जिले के जनप्रतिनिधि विधानसभा में मौका मिलने पर स्थानीय स्तर पर समस्याओं का निस्तारण कराने के साथ ही जिले से जुड़े प्रमुख मुद्दे सदन में गूंज रहे हैं। चकिया विधायक शारदा प्रसाद ने गुरुवार को विधानसभा की कार्यवाही के दौरान क्षेत्र में रेल लाइन बिछाने और सोनहुल में निर्माणाधीन सीआरपीएफ ग्रुप सेंटर का निर्माण कार्य शीघ्र पूरा कराने को लेकर सवाल उठाए, जबकि समाजवादी पार्टी से सकलडीहा विधायक प्रभुनारायण यादव ने पार्टी स्टैंड पर सदन की कार्यवाही का बहिष्कार कर दिया।

चकिया विधायक ने कहा जिले में एशिया का सबसे बड़ा जंक्शन है, लेकिन नक्सल प्रभावित चकिया क्षेत्र में आज तक रेलवे लाइन बिछाने का काम नहीं किया गया। क्षेत्रीय जनता के साथ ही कई बार यह मुद्दा सदन में भी उठ चुका है। इसके बावजूद लोगों की मुराद पूरी नहीं हुई। क्षेत्र में जल्द रेलवे लाइन बिछाने के लिए मंजूरी मिलनी चाहिए, ताकि परिवहन की व्यवस्था सुदृढ़ हो सके।

उन्होंने सोनहुल गांव में निर्माणाधीन सीआरपीएफ ग्रुप सेंटर का निर्माण कार्य शीघ्र पूर्ण कराने को लेकर सवाल उठाए। तत्कालीन गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने फरवरी माह में सीआरपीएफ ग्रुप का उद्घाटन किया था, लेकिन निर्माण की रफ्तार काफी धीमी है। ऐसे में कार्य पूर्ण होने में काफी समय लग सकता है।