चंदौली जिले की सकलडीहा तहसील के कचमन गांव में बीते दो अक्तूबर की रात में मिट्टी रिहायसी मकान गिर जाने से दंपत्ति की मौत होगयी। केन्द्रीय कैबिनेट मंत्री व सांसद डा. महेन्द्रनाथ पांडेय के प्रयास से शनिवार को एसडीएम विजय नारायण सिंह ने मृतक के परिजन को विभिन्न मद से 9 लाख 23 हजार मुआवजा आनलाइन दिया गया। इस मौके पर भाजपा नेता सहित ग्रामीण मौजूद रहे।

लगातार हो रही बारिस के कारण कचमन गांव निवासी मिठाई लाल और कस्तुरबा देवी पति पत्नी दंपत्ति मिट्टी की रिहायसी मकान में दबकर मौत हो गयी। घटना के 48 घंटे बाद भी मृतक परिवार को मुआवजा न मिलने से ग्रामीणों में आक्रोश पनपने लगा था। केन्द्रीय कैबिनेट मंत्री व सांसद डा. महेन्द्रनाथ पांडेय घटना पर दु:ख व्यक्त करते हुए जिलाधिकारी को परिजनों को शीध्र मुआवजा दिलाने की अपील किया था।

इस क्रम में शनिवार को मृतक के परिजन को चार चार लाख रूपया आपदा राहत कोष से और 3 हजार 200 गृह अनुदान दिया गया। इसके अलावा मुख्यमंत्री आवास का 1 लाख तीस हजार और 17 हजार 200 रूपया मनरेगा मजदूरी के तहत आनलाइन परिजनों को आरटीजीएस किया गया।

इस बाबत एसडीएम विजय नारायण सिंह ने बताया कि मृतक के आश्रित के खाते में मुआवजा सहित आवास का पैसा भेज दिया गया। इस मौके पर भाजपा नेता सूर्यमुनी तिवारी, विधि प्रकोष्ठ के जिला संयोजक रमाशंकर खरवार, मंडल अध्यक्ष रामअधार गुप्त, अवधेश सिंह, संजय त्रिपाठी, मोनू पांडेय, भोला राजभर, अमित तिवारी, अरूण मिश्रा, नंदलाल कुशवाहा सहित अन्य मौजूद रहे।