चंदौली जिले में एक माता-पिता ने अपनी बेटी के साथ आत्महत्या कर ली। फिलहाल पुलिस ने तीनों का शव लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है और जांच में जुट गई है। सूचना पर परिवार के साथ पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। घटना का कारण फिलहाल आपसी विवाद बताया जा रहा है। लेकिन पुलिस का कहना है कि रेलवे ट्रैक पार करते समय इनकी मौत हो गई है।

चंदौली जिले के कंदवा थाना क्षेत्र के ककरैत गांव के पास के कोरौती गांव के निवासी विक्रमा यादव अपनी पत्नी गिरजा देवी और बेटी रंजीता के साथ रविवार की सुबह ट्रेन से कटकर जान दे दी। घटना धीना थाना क्षेत्र के पीडीडीयू-पटना रेलखंड पर हुई है। घटना के बाद क्षेत्र में कोहराम मच गया है।


कोरौती निवासी विक्रमा यादव चार भाई थे। सभी भाई अपने परिवार के साथ अलग-अलत रहते हैं। विक्रमा(50) भी अपनी पत्नी गिरजा देवी(45) और बेटी रंजीता(16) के साथ अलग रहता था। बताया जा रहा है कि विक्रमा को चार बेटियों में तीन बेटियों की शादी हो चुकी है।

छोटी बेटी रंजीता अपने माता-पिता के साथ रहती थी। वह हाईस्कूल की छात्रा थी। पड़ोसियों के अनुसार शनिवार की शाम विक्रमा का उसकी पत्नी से किसी बात को लेकर विवाद हुआ था। हालांकि पुलिस इस बारे में कुछ कह नहीं रही है।

परिवार में तीन लोगों की मौत से पूरे गांव में शोक कंदवा थाना क्षेत्र के कोरौत गांव में एक ही परिवार के तीन लोगों की मौत से क्षेत्र में मातम फैल गया है। घटना से हर कोई हतप्रभ है। पति-पत्नी और बेटी की मौत ने गांव वालों को झकझोर कर रख दिया है। गांव और आसपास यहीं चर्चा है कि आखिर ऐसा क्या हो गया जिसकी वजह से तीनों ने एक साथ अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली।

पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया और मामले के बारे में अन्य तरह की जानकरियां एकत्रित कर रही है।