चंदौली जिले के सैयदराजा में मोहर्रम के त्यौहार के लिए ताजिया बनाने में लगभग एक महीने व्यतीत करने वाले लोगों ेक चेहरे पर काफी खुशी देखी गई। इस बार ताजिया का स्वरूप ऐसा दिया गया जिससे भारत के एकता में अखंडता का स्वरूप देखने को मिले। वहीं यहां के ताजिएदारों में हिंदू और गंगा जमुनी तहजीब के साथ हिंदू एवं मुस्लिम भाइयों ने इन ताजियों को कंधा देकर मोहर्रम का त्यौहार बड़ी धूम से मनाया।

नगर पंचायत सैयदराजा स्थित वार्ड नं 9 आजाद नगर की बनाई गयी ताजिया इस बार चर्चा का विषय बना हुआ था।ताजिए को इस स्वरूप को तजियादार एनुल मिस्त्री के नेतृत्व मे महीनों की मेहनत के बाद बनाया गया। इसमें पूरे हिन्दुस्तान की नक्काशी देकर और पूरे ताजिए को तिरंगे से लिपटाया गया था। इसमें दो कबूतर भी चहल कदमी करते हुए दिखाई दे रहे थे।

बताया जा रहा है कि यह अपने आप में अखंड भारत गंगा जमुनी तहजीब को प्रस्तुत करते हुए लोगों को लोगों का मनमोहक बन गया था। ताजियादार की मेहनत को सलाम करते हुए दोनों समुदाय के लोग इस ताजिया को कंधा लगाया लगाने आए। इस दौरान लोग सेल्फी लेते हुए भी देखे गए।