धर्म परिवर्तन कर किया था विवाह, हो गयी विवाहिता की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत

धर्म परिवर्तन कर किया था विवाह, हो गयी विवाहिता की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत

बबुरी। चंदौली जिले के बबुरी थानाक्षेत्र इलाके के टड़िया गांव में गुरुवार की रात 19 वर्षीया विवाहिता की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। उधर परिवार के लोग रात्रि में ही फरार हो गए। देर रात चौकीदार ने चारपाई पर युवती का शव पड़े देखा तो पुलिस को सूचना दी। चौकीदार की तहरीर पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया।

परनपुर गांव में अपने नाना के यहां रह रही दुर्गा मौर्या उर्फ प्रज्ञा का पढ़ाई के दौरान टड़िया निवासी एहसान अंसारी से प्रेम प्रसंग चल रहा था। बालिग होने पर लड़की का धर्म परिवर्तन कर युवक ने निकाह कर लिया। इस विवाह से न तो लड़के के पिता खुश थे न ही लड़की के परिवार वाले। दोनों में अक्सर तकरार होती रहती थी। परिवार की नाराजगी के कारण एहसान व आयशा गांव के बाहर खेत में टिनशेड डालकर रहते थे। एहसान के बड़े भाई इरफान पिता के साथ पैतृक आवास में रहते हैं।

बताया जाता है कि आयशा अपने पति से पैतृक आवास में रहने की जिद्द कर रही थी। परिवार के सदस्य उसे पैतृक मकान में रखने को तैयार नहीं थे। गुरुवार की देर शाम पति पत्नी में किसी बात को लेकर कहासुनी हुई और रात दस बजे चारपाई पर आयशा की लाश मिली। लड़की के परिवार से देर शाम तक किसी के न आने पर पंचायतनामा नहीं भरा जा सका। थानाध्यक्ष संतोष कुमार राय ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मृत्यु के कारणों का खुलासा हो सकेगा।

नाना ने की थी दुर्गा की परवरिश

लड़की की माता आशा की शादी फतेहपुर शेरवा जिला मिर्जापुर निवासी बबलू मौर्या के साथ हुई थी। शादी के दो वर्ष बाद ही बबलू की मौत हो गई। बताया जाता है कि ऐसे में आशा ने वाराणसी के लोहताअपनी दूसरी शादी कर ली। दुर्गा का पालन पोषण ननिहाल में परनपुर गांव निवासी नाना प्रसाद मौर्या ने किया था।

Comments

comments