चंदौली जिले में मतदाता सूची के सत्यापन कार्य में लापरवाही बरतने पर सदर एसडीएम हीरालाल ने एक लेखपाल को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया। जबकि तीन बीएलओ (आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं) पर कार्रवाई के लिए डीपीओ को पत्र लिखा है।

पांच अक्टूबर को एसडीएम ने मतदाता सूची के घर-घर चल रहे सत्यापन का निरीक्षण किया। प्रा.वि. कुवां में तैनात बीएलओ मीरा देवी आंगनबाड़ी कार्यकर्ता की प्रगति शून्य मिली। इसी तरह प्रा.वि. अरंगी की प्रतिमा देवी, गांव के ही दूसरी विद्यालय की शारदा देवी का कार्य भी शून्य रहा। तीनों स्थानों पर मात्र दो-दो मतदाताओं का सत्यापन कार्य किया गया। इनसे संबद्ध लेखपाल अजय प्रजापति की भी लापरवाही उजागर हुई।

उन्होंने बीएलओ के कार्यों की न तो निगरानी की न ही उच्चाधिकारियों को इसकी जानकारी दी। इससे उन्हें निलंबित कर दिया गया। एसडीएम ने बीएलओ के खिलाफ कार्रवाई के लिए डीपीओ को पत्र लिखा और कहा इनके खिलाफ कार्रवाई करके उन्हें अवगत कराया जाए।

एसडीएम ने बताया कई मतदान केंद्रों का सत्यापन कराया गया है। सभी जांच अधिकारियों से रिपोर्ट मांगी गई है। जिनका कार्य शून्य होगा उनके खिलाफ निलंबन की कार्रवाई की जाएगी।