सांसद महेंद्र नाथ पांडेय की इस ख्वाहिश से स्टेशन पर नहीं लिखा जा रहा है पं. दीनदयाल उपाध्याय का नाम

सांसद महेंद्र नाथ पांडेय की इस ख्वाहिश से स्टेशन पर नहीं लिखा जा रहा है पं. दीनदयाल उपाध्याय का नाम

मुगलसराय। चंदौली जिले के मुगलसराय रेलवे स्टेशन का नाम मिटाए जाने के बाद भी नया नाम केवल इसलिए नहीं लिखा जा सका है, क्योंकि जिले के सांसद व प्रदेश अध्यक्ष चाहत हैं कि  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी के दौरे पर आने के दौरान पंडित दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन के नामकरण का तोहफा लोगों को अपने हाथों से दें।

आपको बता दें कि गृह मंत्रालय, रेल मंत्रालय व उत्तर प्रदेश सरकार की औपचारिकताएं पूरी होने के बावजूद नामकरण में देरी के पीछे असली वजह यही बताई जा रही है और रेलवे ने तो पुराने सारे नाम को पेंट लगाकर मिटा दिया है पर नया नाम अभी तक नहीं लिखा जा सका है। हालांकि रेल प्रशासन ने भी इसकी गुपचुप तैयारियां शुरू कर दी है।

भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष एवं चंदौली के सांसद डॉ. महेंद्र नाथ पांडेय ने कहा कि यह बड़ी उपलब्धि है इसलिए इसका उद्घाटन प्रधानमंत्री के हाथों हो। इसके लिए हमारी जोरदार तरीके से कोशिश जारी है।

 

आपको बता दें कि मुगलसराय जंक्शन के बोर्ड को मिटाने का काम शुरू हुआ तो लगा कि 24 घंटे में जंक्शन पंडित दीनदयाल जंक्शन के नामकरण वाले नए-नए बोर्ड एवं ग्लोसाइन से जगमगा उठेगा। लेकिन ऐसा नहीं, अचानक रफ्तार पकड़े काम थम से गए। रेल मंडल मुगलसराय के अधिकारी इस बारे में सीधे तौर पर कुछ बोलने से बच रहे हैं मगर रेल मंडल में चल रही तैयारियां बहुत कुछ संदेश देने को पर्याप्त हैं।

 

Comments

comments