रामकिशुन बोले : लोकार्पण पट्टिका पर भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह का नाम असंवैधानिक

रामकिशुन बोले : लोकार्पण पट्टिका पर भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह का नाम असंवैधानिक

मुगलसराय। जिले के पूर्व सपा सांसद रामकिशुन यादव ने रेलवे स्टेशन के नामकरण लोकार्पण के साथ ही करोड़ों रुपये के शिलान्यास को पूरी तरह असंवैधानिक करार दिया। उन्होंने लोकार्पण पट्टिका पर भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह लिखे होने पर सवाल खड़ा किया। कहा कि किसी भी राजनीतिक संगठन और पदाधिकारी का नाम सरकारी परियोजना के शिलापट्ट पर नहीं होता है। यह देश में पहली घटना है, जब संविधान का खुला उल्लंघन किया गया।

पूर्व सांसद रामकिशुन ने सोमवार को पार्टी कार्यालय पर मीडिया कर्मियों से वार्ता करते हुए केंद्र व प्रदेश सरकार से जवाब मांगा। उन्होंने कहा कि भाजपा अध्यक्ष अमित शाह, रेलमंत्री पीयूष गोयल, सीएम योगी आदित्यनाथ ने रविवार को बाकले मैदान पर बटन दबाकर मुगलसराय स्टेशन के परिवर्तित नाम पंडित दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन के लोकार्पण अलावा पंडित दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन यार्ड का स्मार्ट यार्ड में उन्नयन, रूट रिले इंटरलॉकिंग प्रणाली का उन्नयन, रेलवे स्टेशन के विकास कार्य का शिलान्यास किया। चारों शिलापट्ट पर सबसे ऊपर अमित शाह राष्ट्रीय अध्यक्ष भाजपा लिखा है।

इसके नीचे सीएम, रेलमंत्री व सांसद व रेल अधिकारियों का नाम अंकित है। जबकि शिलापट्ट पर अमित शाह सांसद राज्यसभा लिखा होना संवैधानिक हो सकता था। कहा कि किसी भी राजनीतिक दल के पदाधिकारी का सरकारी परियोजना के लोकार्पण पर नाम होना पूरी तरह गैरकानूनी है।

उन्होंने कहा कि सपा कार्यालय पर शांतिपूर्ण ढंग से जनेश्वर मिश्र जयंती की तैयारी चल रही थी। सत्ता पक्ष के लोगों के इशारे पर पुलिस ने कार्यकर्ताओं पर लाठीचार्ज किया। उन्होंने कहा कि आगामी लोस चुनाव में भाजपा को अपनी मनमानी व हिलटरशाही की कीमत चुकानी पड़ेगी।

उधर, रेलवे पीआरओ पृथ्वीराज ने पूछे जाने पर बताया कि शिलापट्ट बनवाने की डिजाइन हाजीपुर जोन से ही मिली थी। उसी के आधार पर शिलापट्ट बनवाया गया।

Comments

comments