चंदौली जनपद की सभी तहसीलों में मंगलवार को संपूर्ण समाधान दिवस का आयोजन किया गया, जिसके अंतर्गत 358 प्रार्थना पत्र आए लेकिन उनमें से केवल 25 का मौके पर निस्तारण हो पाया।

इस दौरान मंडल के मंडलायुक्त दीपक अग्रवाल ने मुगलसराय तहसील में आयोजित संपूर्ण समाधान दिवस का औचक निरीक्षण किया। उन्होंने अधिकारियों को प्रार्थना पत्रों के त्वरित निस्तारण के निर्देश दिए। जिलाधिकारी नवनीत सिंह चहल ने सदर तहसील में फरियादियों की समस्याएं सुनीं। प्रार्थना पत्रों पर सुनवाई न होने से फरियादियों में मायूसी दिखी।

सदर तहसील में 91 प्रार्थना पत्र आए। इसमें मात्र दो का निस्तारण किया गया। मुगलसराय तहसील में 111 प्रार्थना पत्रों में 10 का निस्तारण हुआ। सकलडीहा में 91 प्रार्थना पत्रों में तीन, चकिया में 25 में दो व नौगढ़ में 40 प्रार्थना पत्रों में आठ मामलों का निस्तारण हुआ। राजस्व व भूमि विवादों के सर्वाधिक मामले रहे।

मंडलायुक्त 11:30 बजे बिलारीडीह स्थित मुगलसराय तहसील पहुंचे। उन्होंने फरियादियों की समस्याएं सुनीं। एसडीएम को मामलों के त्वरित निस्तारण के निर्देश दिए। कहा संपूर्ण समाधान दिवस में फरियादी विश्वास के साथ आते हैं। इसलिए उन्हें हर हाल में न्याय मिलना चाहिए। डीएम ने कहा राजस्वकर्मी मौके पर जाकर भूमि संबंधी विवादों का निस्तारण कराएं। मामलों का दोबारा सत्यापन कराया जाएगा। लापरवाही पाए जाने पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।