चंदौली जिले के सकलडीहा पीजी कॉलेज में छात्र संघ चुनाव की मांग को लेकर धरने पर बैठे छात्र नेता मुकेश सिंह की हालत शनिवार को बिगड़ गई। धरनास्थल पर पहुंची स्वास्थ्य टीम को छात्र नेताओं ने चुनाव तिथि की घोषणा न होने तक इलाज न कराने की बात कहकर वापस लौटा दिया। छात्रों ने सोमवार से आमरण अनशन पर बैठने की चेतावनी दी है ।

कालेज में छात्र संघ चुनाव बार-बार टलने से छात्रों में गुस्सा है। छात्रों ने आरोप लगाया कि कॉलेज प्रशासन चुनाव को लेकर छात्रों और जिला प्रशासन को गुमराह कर रहा है। कुछ छात्र नेताओं के इशारे पर चुनाव को लेकर टालमटोल का रवैया अपनाया जा रहा है। शनिवार को दूसरे दिन धरना स्थल पर बैठे छात्र नेता मुकेश सिंह की हालत बिगड़ने पर कॉलेज प्रशासन में खलबली मच गई। सूचना कर एम्बुलेंस टीम को बुलाया गया। लेकिन छात्र नेताओं ने चुनाव तिथि की घोषणा होने तक इलाज न कराने व सोमवार से आमरण अनशन पर बैठने की चेतावनी दी।

 

चुनाव अधिकारी डा. उदय शंकर झा ने बताया कि चुनाव कराने को लेकर पूरी तैयारी है। 10 जनवरी को जिला प्रशासन से अनुमति मांगी गई है। अनुमति मिलते ही चुनाव तिथि की घोषणा कर दी जाएगी। इस मौके पर छात्र नेता कुलदीप यादव, अजय सिंह यादव, विकास यादव, शिवा मिश्रा, अतुल पांडेय, धनंजय यादव, प्रियांशु सिंह, बृजेश पाठक, रामदयाल यादव सहित अन्य उपस्थित थे।