चंदौली जिले के मुगलसराय इलाके में समलैंगिक संबंधों में खटास के चलते खोया मंडी निवासी युवक अंकित जायसवाल को उसके ही साथी ने गोली मारी थी। कोतवाली पुलिस ने बुधवार को तड़के आरोपित को गिरफ्तार कर लिया। घटना में प्रयुक्त तमंचा और कारतूस भी बरामद किया गया। सीओ सदर त्रिपुरारी पांडेय ने कार्यालय में मामले का खुलासा किया। पकड़ा गया श्रवण गुप्ता परशुरामपुर डीजल कालोनी निवासी है।

सीओ ने बताया कि खोया मंडी निवासी मोबाइल एसेसरीज सप्लायर 27 वर्षीय अंकित जायसवाल को गत 14 सितंबर को उसके घर के बाहर गोली मारी गई थी। गनीमत रही कि गोली पेट में लगी और अंकित की जान बच गई। रात तकरीबन साढ़े नौ बजे घटित इस घटना से सनसनी फैल गई। बदमाश ने पुलिस के इकबाल को चुनौती दे डाली। तफ्तीश शुरू हुई तो घटना का वाजिब कारण सामने आया। पता चला कि घटना को अंजाम देने वाला आरोपित श्रवण गुप्ता भुक्तभोगी अंकित जायसवाल का साथी है कारणों के मूल में समलैंगिक संबंध हैं। पुलिस ने आरोपित की तलाश शुरू कर दी।

बुधवार को तड़के पौने चार बजे यूरोपियन कालोनी के पास से श्रवण को गिरफ्तार कर लिया गया। उसकी निशानदेही पर प्लांट डिपो रेल लाइन के किनारे पालीथिन में लपेटकर मिट्टी के नीचे छिपाकर रखा गया तमंचा और कारतूस बरामद कर लिया गया। पूछताछ में आरोपित ने यह भी स्वीकार किया कि उसने जान से मारे की नीयत से गोली चलाई थी, लेकिन अंकित बच गया। घटना के बाद उसने तमंचे को ठिकाने लगा दिया था। टीम में प्रभारी निरीक्षक शिवानंद मिश्र, सत्येंद्र विक्रम सिंह, राजनारायण पांडेय, प्रहलाद सिंह, शैलेंद्र उपाध्याय, सागर यादव थे।