सुनिए.. सभासद पुत्र के अपहरण की पूरी कहानी, एसपी चंदौली की जुबानी

सुनिए.. सभासद पुत्र के अपहरण की पूरी कहानी, एसपी चंदौली की जुबानी

मुगलसराय। जिले की मुगलसराय नगरपालिका के सपा सभासद के पुत्र के अपहरण का खुलासा हो गया है। पूरी कहानी इस प्रकार है….

 

10 जुलाई की रात मुगलसराय चतुर्भुजपुर वार्ड सभासद रीना रावत के पुत्र राहुल को सत्यपाल गुप्ता (राहुल के पिता वीरू का दोस्त) वह उसे घर से ले गया। मुगलसराय स्टेशन पर इधर-उधर घुमाने के बाद सत्यपाल उसे लेकर अलीनगर इलाके में हाइवे स्थित एक चाय की दुकान पर लाया और उसकी स्कूटी खड़ा कराने के बाद वहां खड़ी एक स्कार्पियो में जबरदस्ती बैठा लिया। उसके हाथ-पांव बांध दिए। राहुल को वे बबुरी थाना क्षेत्र के नगई गांव स्थित जूली उर्फ संतोष विश्वकर्मा के टिन शेड में ले गए। उसके मुंह में कपड़ा ठूंस दिया, ताकि वह शोरगुल न मचा सके। राहुल को छोड़ने के लिए उसके पिता वीरू रावत से 50 लाख रुपये की मांग की। बच्चे के अपहरण की खबर से वीरू व रीना रावत का पूरा परिवार सहम गया। अब भी फरार

राहुल रावत के अपहरण को अंजाम देने वाले अलीनगर थाना क्षेत्र के गोधना निवासी संदीप यादव, बबुरी थाना के नगई निवासी जूली उर्फ संतोष, बबुरी निवासी कपिल व शकील अब भी फरार हैं। वहीं चार अपहर्ता पुलिस के हत्थे चढ़ चुके हैं, इसमें सतीश यादव, विशाल यादव, सत्यपाल गुप्ता, मुलायम प्रजापति हैं। सभी मुगलसराय के चतुर्भुजपुर वार्ड निवासी हैं।

Comments

comments