चंदौली जिले में हनुमान जी का अनोखा मंदिर है। कहते हैं कि दुनिया में दक्षिण मुखी हनुमानजी की अलग ही महत्ता है। दक्षिण मुखी हनुमानजी मंदिर देश में चंद जगहों पर ही देखने को मिलते हैं।

एक ऐसा ही मंदिर चहनियां विकासखंड के रौना गांव में स्थित है। यहां के हनुमान मंदिर में हनुमान जी की मूर्ति अलौकिक व आस्था की प्रतीक है। मान्यता है कि मंदिर की चौखट पर सिर झुकाने वालों की मुराद अवश्य पूरी होती है। मंदिर में उर्ध्वाकार दक्षिण मुखी हनुमानजी को लेकर क्षेत्र में तमाम किवदंतियां प्रचलित हैं।

बुजुर्गों के अनुसार मंदिर का इतिहास लगभग दो सौ वर्ष पुराना है। रौना गांव निवासी टेका-सुबन्स ने इस मंदिर का निर्माण करवाया था।  बाकी मंदिर का जीणोद्वार कुछ वर्ष बाद  स्व.पर्वती देवी ने करवाया। आज मंदिर के दक्षिण दिशा में मुंह किए हनुमानजी की मूर्ति आस पास के जनपदों के भक्तों की आस्था की केंद्र है।

यहां पर हर मंगलवार को यहाँ भक्तों की अधिक भीड़ होती हैं। आपको बता दें कि दर्जनों गांव के युवा वर्ग के लड़के इनके दर्शन व मन्नत के सरकारी नौकरी प्राप्त कर चुके हैं। यही नहीं, लोकसभा चुनाव के समय यहाँ के स्थानीय सांसद महेंद्र नाथ पांडेय में दर्शन कर जीत की मुराद माँगी थीं।