चंदौली जिले की सैयदराजा विधानसभा सीट के विधायक सुशील सिंह की हत्या के लिए आए तीन शातिर शूटरों को वाराणसी में एसटीएफ ने गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार तीनों शूटरों को टकटकपुर के गोदाम के पास से गिरफ्तार किया गया है। गिरफ्तार अपराधियों में प्रयागराज का 1 लाख का इनामी बदमाश भी शामिल है।

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार एसटीएफ ने बस्ती के मूल निवासी और प्रयागराज में रहने वाले एक लाख के इनामी बदमाश शिव प्रकाश तिवारी उर्फ सोनी तिवारी उर्फ धोनी तिवारी को उसके दो साथियों के साथ गिरफ्तार किया है। इनके पास से पिस्टल और तमंचा भी बरामद हुए हैं।

एसटीएफ के मुताबिक तीनों शूटरों को भाजपा विधायक सुशील सिंह, उनके परिचित अजय मरदह और सनी सिंह की हत्या के इरादे से वाराणसी में बुलाया गया था। पूछताछ में दोनों ने तिवारी ने बताया कि प्रयागराज के  एक दिवंगत छात्र के जरिए उनका संबंध श्रीकंठपुर के अमरनाथ चौबे के साथ हुआ था और उनके कहने पर ही वह यहां आए थे।

आपको बता दें कि अमरनाथ चौबे के पिता राम बिहारी चौबे की उनके आवास पर ही गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। इस हत्याकांड में उनके परिजनों ने विधायक सुशील सिंह और उनके सहयोगी अजय मरदह पर शक जाहिर किया था। इस हत्याकांड में अजय मरदह की गिरफ्तारी भी हो चुकी है।

पुलिस के अनुसार गिरफ्तार अपराधियों में शिव प्रकाश तिवारी उर्फ सोनी तिवारी, मनीष केसरवानी और अंजनी सिंह शामिल हैं, जिनको गिरफ्तार करके तमंचे और कारतूस भी बरामद किए गए हैं । इनके पास से तीन फोन भी बरामद हुए हैं जिनके आधार पर जांच पड़ताल की जा रही है।