चन्दौली जिले में उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य का आगमन तहसील चकिया के आदित्य नारायण राजकीय इण्टर कालेज, चकिया में आगमन हुआ। उन्होंने उपस्थित जनता का मंच से अभिवादन करते हुये बताया कि ओमान के सुल्तान के निधन पर भारत में नागरिक आज एक दिन के राजकीय शोक मना रहा है। इसलिए कार्यक्रम को सादगी से आयोजित किया जा रहा है।

उन्होंने नागरिकता संसोधन अधिनियम-2019 के बारे में लोगों को बताया कहा यह कानून सिर्फ नागरिकता देने के लिए है। किसी की नागरिकता छीनने का अधिकार इस कानून में नही है। भारत के अल्पसंख्यकों विशेषकर मुसलमानों का सीएए से कोई अहित नही है। सीएए से देश के नागरिकों की नागरिकता पर कोई प्रभाव नही पडे़गा। यह कानून किसी भी भारतीय हिन्दू, मुसलमान आदि को प्रभावित नहीं करेगा। इस अधिनियम के तहत पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बांग्लादेश में धार्मिक उत्पीड़न के कारण वहां से आए हिन्दू, ईसाई, सिख, पारसी, जैन और बौद्ध धर्म को मानने वाले शरणार्थियों को भारत की नागरिकता दी जाएगी। जो 31 दिसम्बर, 2014 से पूर्व ही भारत में रह रहें हों तथा जो केवल इन तीन देशों से धर्म के आधार पर प्रताड़ित किए गए हो। अभी तक भारतीय नागरिकता लेने के लिए 11 साल भारत में रहना अनिवार्य था।

यह कानून केवल उन लोगों के लिए है, जिन्होनें वर्षों से बाहर उत्पीड़न का सामना किया और उनके पास भारत आने के अलावा और कोई जगह नही है। गरीब, किसान के घर में बिजली नही पहॅुची थी कहा हमारी सरकार का लक्ष्य है उसके घर में बिजली पहॅुचाने का कार्य तेजी से कर रही है।

कहा हमारी सरकार गरीब पीड़ित परिवार को आयुष्मान भारत के अन्तर्गत 05 लाख तक का स्वास्थ्य कार्ड देने का कार्य किया जिससे गरीब लोग पांच लाख रूपये तक अपने परिवार का इलाज करा सकता है इसे लागू होने से गरीबों के चेहरे पर खुशियां एवं उनके जीवन में परिवर्तन लाया गया है। सीएए का विरोध करने वालों पर तंज कसा। अयोध्या पर आये फैसले का जिक्र किया कहा राम जन्म भूमि पर फैसले आने के बाद तीव्र गति से कार्य किया जा रहा है।

आज 11 कार्यों का लोकार्पण-शिलान्यास कार्य होना था जो शिलापट्ट को बिना खोले ही बताया। कहा कि ओमान के सुल्तान के निधन पर भारत आज शोक में है।

हेलीपैड से लेकर कार्यक्रम स्थल तक सुरक्षा व्यवस्था दुरूस्त रहा। जिलाधिकारी नवनीत सिंह चहल व पुलिस अधीक्षक हेमन्त कुटियाल की उपस्थिति में कार्यक्रम सम्पन्न हुआ।

कार्यक्रम के दौरान चकिया विधायक शारदा प्रसाद, पीडीडीयू नगर के विधायिका श्रीमती साधना सिंह, भाजपा जिलाध्यक्ष सर्वेश कुशवाहा सहित अन्य नेतागण के अलावा अधिकारी उपस्थित थे।