चंदौली जिले के धानापुर इलाके में आयुष्मान भारत योजना के तहत फर्जी कैंप लगाकर धन उगाही करने के आरोप में पुलिस ने दो शातिर जालसाजों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज किया है। बताया जा रहा है कि इनके द्वारा फर्जी कैंप लगाकर लोगों को चूना लगाने का काम किया जा रहा था।

जानकारी के अनुसार, कांधरपुर गांव से 23 निदिलपुर से 16 लोगों सहित 39 ग्रामीणों से गोल्डेन कार्ड बनाने के नाम पर धन उगाही की गई थी। जानकारी पर स्थानीय लोगों ने आयुष्मान भारत के शिकायत पोर्टल पर शिकायत की थी। जांच होने पर मामला खुल गया।

पकड़े गए दोनों जालसाज हिगुतरगढ़ निवासी झब्बन यादव और हरबंश राम निवासी अज्ञात ने ग्रामीणों के भोलेपन का फायदा उठाते हुए कहा आयुष्मान भारत से ग्रामीणों का नया कार्ड बनाने आए हैं, जिनका नाम योजना में है उसका और जिसका नाम योजना में नहीं है, उसका भी कार्ड बनने के बाद लाभार्थियों के पांच लाख तक का इलाज मुफ्त होगा। ग्रामीण लालच में आकर कार्ड बनवाने लगे। दोनों जालसाजों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया।