चंदौली जिले की चकिया तहसील के अमरा उत्तरी गांव में गुरुवार को दो विवाहिताओं की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। नगर के वार्ड नंबर एक निवासी विवाहिता सोनी (20) का शव गुरुवार की सुबह घर के एक कमरे में पाया गया। मृतका के पिता ने दहेज की खातिर पुत्री की हत्या का आरोप ससुरालवालों पर लगाया है।

बताया जा रहा है कि शिकायत के बाद पुलिस ने पति, सास व देवर समेत पांच के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया। दूसरी घटना अमरा उत्तरी गांव की है। गांव निवासी राबिया (21) की भी संदिग्ध हाल में मौत हो गई। परिजनों ने शव को दफना दिया। सूचना मिलने पर आनन-फानन में पुलिस मौके पर पहुंच गई।

नगर के वार्ड एक निवासी जितेंद्र सोनकर व पत्नी सोनी रात में सोए थे। सुबह जितेंद्र कसरत के लिए जिम चले गए। थोड़ी देर बाद सोनी का शव कमरे में मिला। पत्नी की मौत की जानकारी मिलते ही भागकर जितेंद्र घर पहुंचे। परिजनों की मदद से संयुक्त चिकित्सालय ले गए, जहां चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया।

उधर घटना की जानकारी मिलने पर मीरजापुर जनपद के अहरौरा थाने के मानिकपुर निवासी विवाहिता के पिता शीतल सोनकर समेत मायके पक्ष के लोग कोतवाली पहुंच गए। पिता ने पुलिस को तहरीर देकर ससुरालियों पर दहेज के लिए पुत्री की हत्या करने का आरोप लगाया। कहा एक वर्ष पहले पुत्री की शादी प्यारे सोनकर के पुत्र जितेंद्र से हुई थी। आरोप लगाया कि ससुराल वाले बाइक व नकदी की मांग को लेकर पुत्री को बराबर प्रताड़ित करते रहे। पुलिस पति समेत पांच लोगों के खिलाफ दहेज हत्या का मुकदमा दर्ज कर आवश्यक कार्रवाई में जुट गई।

दूसरी घटना अमरा उत्तरी गांव की है। गांव निवासी इकबाल की पुत्री रबिया (21) के कमरे का दरवाजा सुबह काफी देर तक नहीं खुला तो परिजन किसी अनहोनी की आशंका से व्यथित हो गए। दरवाजा तोड़कर कमरे में प्रवेश किया तो राबिया की सांसें थम चुकी थी। आनन-फानन में परिजन गांव स्थित कब्र में शव को दफन कर दिए। सूचना पर कोतवाल संतोष कुमार राय मौके पर पहुंचे। जांच पड़ताल में मायके वालों ने बताया कि राबिया की शादी गांव में ही एक युवक से एक वर्ष पूर्व हुई थी। पिता ने बताया कुछ दिन पूर्व बेटी राबिया मेरे घर आकर रह रही थी। हृदय गति रुकने से उसकी मौत हो गई। कोतवाल ने बताया कि घटना में तहरीर नहीं दी गई है।