चंदौली जिला मुख्यालय के समीप बिछियां रेलवे क्रासिंग पर अंडरपास निर्माण के लिए गुरुवार को रेलवे व तहसील प्रशासन ने अतिक्रमण हटवाया। किसानों के विरोध को देखते हुए पहले भूमि का सीमांकन कराया गया। इसके बाद उनकी सहमति से पोकलैन मशीन लगाकर अतिक्रमण हटवाया। इस दौरान नायब तहसीलदार के नेतृत्व में पर्याप्त संख्या में पुलिस व पीएसी के जवान तैनात रहे।

मुख्यालय के समीप बिछियां रेलवे क्रासिंग से लोगों का आवागमन होता है। सकलडीहा रेलवे क्रासिग पर आरओबी निर्माण के चलते बिछियां क्रासिंग पर दबाव बढ़ गया है। इससे आए दिन जाम की स्थिति बन जाती है। राहगीरों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है। लोगों की मांग को देखते हुए बिछिया रेलवे क्रासिग पर अंडर पास के निर्माण की प्रक्रिया शुरू हो गई है। रेलवे और डीएफसीसी (डेडिकेटिड फ्रेट कारीडोर कारपोरेशन) की ओर से अंडरपास निर्माण को 0.1280 हेक्टेयर जमीन का अधिग्रहण किया गया है। लेकिन किसानों ने अधिग्रहण प्रक्रिया पर आपत्ति जाहिर कर दी। भूमि का सीमांकन कराने के बाद ही निर्माण कार्य शुरू कराने की मांग की थी।

इस पर नायब तहसीलदार रविरंजन के नेतृत्व में राजस्वकर्मियों व डीएफसीसी के अधिकारियों-कर्मचारियों की टीम मौके पर पहुंची। इस दौरान जमीन की बाकायदे नापी कराई। रेलवे क्रासिंग के समीप स्थित मार्ग से अधिग्रहित की गई पूरी जमीन की नापी कराकर सीमांकन कराया गया। इसके बाद पोकलैन मशीन लगाकर अधिग्रहित जमीन के दायरे में आने वाले अतिक्रमण को हटवा दिया गया। कच्चे-पक्के निर्माण ढहा दिए गए। साथ ही जमीन का समतलीकरण भी कराया गया। मौके पर भारी फोर्स व अधिकारियों की मौजूदगी के चलते विरोध का सामना नहीं करना पड़ा।

अधिग्रहित जमीन के सीमांकन व अतिक्रमण हटने के बाद अंडरपास का निर्माण जल्द शुरू होने की उम्मीद जग गई है। इससे राहगीरों को राहत मिलेगी।