चंदैली जिले की सैयदराजा पुलिस के तत्परता से रविवार की सुबह भतीजा सोगाई रोड पर मिले अज्ञात 45 वर्षीय अधेड़ के शव की पहचान हो गई। शर्ट के कॉलर पर लगे टेलर के स्टीकर से पुलिस ने मध्य प्रदेश के बिलासपुर जिले के मंस्तुरी बाजार में उसके परिजनों को खोज निकाली।

बताया जा रहा है कि सैयदराजा थाने पहुंचकर अनिल सिंह ने शव की अपने बड़े भाई उत्तम सिंह के रूप में पहचान की। उत्तम 26 अगस्त से घर से लापता था। परिजन पोस्टमार्टम के बाद शव अपने साथ घर ले गए।

थाना क्षेत्र के भतीजा सोगाई रोड किनारे रविवार की सुबह लगभग 8 बजे कुछ लोगों ने 45 वर्षीय अज्ञात अधेड़ का शव देखा। पुलिस ने शव के शिनाख्त कराने की कोशिश की, लेकिन सफलता हाथ नहीं लगी। पुलिस ने जब शर्ट की तलाशी ली, तो कॉलर पर टॉप टेलर्स केलारी मंस्तूरी बाजार विलासपुर एमपी लिखा मिला।

मंस्तूरी पुलिस ने जब जांच पड़ताल की तो इसी हुलिया के व्यक्ति का 27 अगस्त को गुमशुदगी दर्ज होने की बात सामने आई। पुलिस ने घटना की जानकारी परिजनों को दी।