सास-ससुर व पति को खाना देकर फांसी पर झूल गयी तीन बच्चों की मां

सास-ससुर व पति को खाना देकर फांसी पर झूल गयी तीन बच्चों की मां

चंदौली जिले की सकलडीहा कोतवाली क्षेत्र के पीथापुर गांव में शुक्रवार की सुबह दस बजे तीन बच्चों की 32 वर्षीय मां ने फांसी पर झूलकर जान दे दी।इसकी जानकारी होते ही परिजनों में कोहराम मच गया। मौके पर पहुंची पुलिस शव को कब्जे में लेकर पीएम के लिये भेज दिया। वही घटना के कारणों की पुलिस जांच में जुटी है। वहीं सीओ से मिलकर मृतका के पिता ने न्याय की गुहार लगाई है।

क्षेत्र के कवरूआ गांव निवासी सेवानिवृत्त रेलकर्मी रामजी प्रजापति के पुत्री शशी की शादी मई 2007 में पीथापुर निवासी बेचू प्रजापति के पुत्र रामप्रताप उर्फ विक्कू से हुई थी। शशी को एक पुत्री दो वर्षीय श्वेता, दो पुत्र 8 वर्षीय विकास व एक वर्षीय शिवम है। पति रामप्रताप माता पिता से अलग होकर खेती बारी करता है। शशी मायके से छठ पूजा समाप्त होने पर पिता के साथ ससुराल आयी थी।

शुक्रवार की सुबह बच्चों के हाथ से पति और सास ससुर को खेत में खाना भेज दी। इस दौरान छोटा पुत्र घर में था। वही अचानक विवाहिता फांसी के फंदे पर झूलकर अपनी इहलीला समाप्त कर ली। इस दौरान छोटे पुत्र के रोने पर आसपास के लोगों ने घर में घुसकर देखा तो हैरान हो गये। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पीएम के लिये भेज दिया।

उधर मृतका के पिता रामजी प्रजापति ने सीओ त्रिपुरारी पांडेय से मिलकर घटना की जानकारी दी और न्याय की गुहार लगाई। प्रभारी कोतवाल एस के तोमर ने बताया कि घटना के बाबत जांच पड़ताल किया जा रहा है।

Comments

comments