चंदौली जिले में राष्ट्रीय राजमार्ग पर सोमवार को फिर से रफ्तार का कहर बरपा। परीक्षार्थियों से भरा तेज रफ्तार टेंपो अनियंत्रित होकर पलट गया। हादसे में चालक समेत करीब 11 लोग घायल हो गए।

बताया जा रहा है कि इसमें पांच छात्राओं की गंभीर हालत गंभीर बताई गई है। हादसे की सूचना पर इलाकाई पुलिस मौके पर पहुंची थी।

अमड़ा स्थित प्रगतिशील इंटर कॉलेज के छात्र परीक्षा देकर दोपहर में एक बजे टेंपो से लौट रहे थे। टेंपो चालक को छोड़ सभी छात्र भदखरी गांव के निवासी हैं। अमड़ा पुलिया के निकट चालक का स्टेयरिग से नियंत्रण छूटा तो हादसा हो गया। दुर्घटना में अभिलाषा (13), चांदनी (12), संध्या (14), कुसुम (13), अंशु (12) टेंपों के नीचे दब गईं। चीख पुकार मची तो राहगीर, इलाकाई ग्रामीण, दुकानदार पहुंचे तो घायलों को अस्पताल पहुंचाया जा सका।

चिकित्सकों ने कुसुम एवं अंशु की गंभीर हालत देख जिला अस्पताल को रेफर कर दिया। टेंपो चालक संदीप (18) को सिर में चोट लगी है। मामूली घायलों का प्राथमिक इलाज कर छुट्टी कर दी गई। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि छात्राओं के टेंपों के नीचे दबने से ज्यादा चोट आई है।

ग्रामीणों ने बताया कि किशोर उम्र लड़के टेंपो की स्टेयरिग संभाल रहे। ऐसे में हादसों पर चाहकर भी अंकुश नहीं लगाया जा सकता है। अधिकांश सवारी गाड़ियों पर ऐसे ही चालकों के होने से यात्री भी जान जोखिम में डालकर सफर करने को मजबूर हैं।