सकलडीहा तहसील में अब तक एक दर्जन कर्मचारियों को निकल चुका कोरोना, अधिवक्ताओं की है ये मांग

चंदौली जिले की सकलडीहा तहसील में एक दर्जन कर्मचारियों के कोरोनावायरस होने की पुष्टि के बाद मंगलवार को तहसील खुलने पर एसडीएम द्वारा तहसील को फिर 2 दिनों के लिए बंद करने पर अधिवक्ता बौखला गए।

अधिवक्ताओं का आरोप है कि 1 दिन पूर्व कोरोना पॉजिटिव की रिपोर्ट आ गई थी। उसके बाद भी एसडीएम द्वारा कार्यालय को बंद कर सैनिटाइजेशन कराने का कार्य नहीं कराया गया। मंगलवार को तहसील को नियमित समय पर खोल दिया गया। तहसील खुलने से अधिवक्ताओं और वादकारियों को यहां आना पड़ा, जिससे संक्रमण का और खतरा बढ़ गया है।

अधिवक्ताओं का आरोप है कि अधिकारियों की लापरवाही एवं कुव्यवस्था के कारण तहसील में संक्रमण दिनों दिन बढ़ता जा रहा है। तहसील को दो दिनों के लिए बंद कर दिया गया है जिससे तहसील अब 24 सितंबर को खुलेगी। इस बीच हम लोगों की मांग है कि पूरी तहसील को सेनेटाइज किया जाय।

एक दर्जन संक्रमितों में तहसील के लेखपाल, राजस्वकर्मी एवं दैनिक भोगी कर्मचारी शामिल हैं। इसमें कुछ कर्मचारी तो तहसील खुलने के बाद मंगलवार को परिसर में घूमते हुए देखे गए।उन्हें जबरजस्ती घर भेजा गया।