फेसुड़ा गांव की इस समस्या का इलाज केवल ज्वाइंट मजिस्ट्रेट प्रेम प्रकाश मीणा के पास, लोगों ने लगायी गुहार

चंदौली जिले में सरकार जहां गांव के विकास के लिए पानी की तरह पैसा बहा रही है। वहीं 21वीं सदी में भी अभी सकलडीहा ब्लाक के फेसुडा गांव के लोग गंदे पानी की निकासी नहीं होने कारण बदतर जिंदगी जीने को मजबूर हैं।

बताते चले कि फेसुडा ग्राम सभा के सड़क पर लगभग 25 वर्षों से गंदे पानी का निकास,नाली के अभाव में हो रहा है। जिससे आवागमन करने और अगल-बगल के रहने वाले लोगों को काफी मुसीबत झेलनी पड़ रही है।

पीड़ित रविकांत ने समस्या के निस्तारण के लिए कई जगह प्रार्थना पत्र दिया लेकिन अभी तक इस मामले से निजात नहीं मिल पाया। पीड़ित का आरोप है कि अगल-बगल यादव जाति के लोगों की जमीन है जो नाली बनने से रोक रहे हैं। गांव के ठेकेदार द्वारा होम पाइप लगाकर पानी का निकास गंदे नाले में किया जा रहा था लेकिन सड़क के बीचो-बीच से भी यादव जाति के लोगों ने नाली नहीं बनने दिया।

पीड़ित ने न्याय के लिए सकलडीहा के ज्वाइंट मजिस्ट्रेट प्रेम प्रकाश मीणा से गुहार लगाते हुए मांग किया है कि गंदे पानी का निकास कराया जाए क्योकि गंदे पानी के कारण मच्छर आदि कीटाणु पैदा होते हैं । जिससे कि अगल-बगल रहने वाले लोगों को लगातार संक्रामक बीमारी का सामना करना पड़ता है। यही नहीं यदि यादव जाति के लोगो का कहना हैं कि पानी का निकास नहीं होने देंगे और पानी घर में ही रहेगा।