बसपा की शरण में अनुज सिंह, माता आशा देवी को मिला बसपा की तीसरी सूची में टिकट

चंदौली जिले में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव को लेकर बहुजन समाज पार्टी ने दूसरे दलों के ऐसे नेताओं पर भी दांव खेलना शुरू कर दिया है, जिनको उनके दलों ने या तो टिकट नहीं दिया है या वह उनसे नाराज चल रहे हैं।

बहुजन समाज पार्टी ने अपने पार्टी के अधिकृत प्रत्याशियों की सूची में सपा के वरिष्ठ नेता अशोक त्रिपाठी उर्फ छोटू तिवारी को टिकट देने के बाद चंदौली जिले के ग्राम प्रधान संघ के अध्यक्ष अनुज सिंह की माता आशा देवी को भी अपने पार्टी का अधिकृत उम्मीदवार बना दिया है।

बताया जा रहा है कि प्रधान संघ के अध्यक्ष अनुज सिंह के बसपा में शामिल होने के बाद यह फैसला लिया गया है। बहुजन समाज पार्टी ने बरहनी के सेक्टर नंबर 2 से अनुज सिंह की माता आशा देवी को पार्टी का उम्मीदवार घोषित करते हुए कहा है कि प्रधान संघ के अध्यक्ष रहने के दौरान उन्होंने न सिर्फ संगठन को मजबूती से आगे बढ़ाया है बल्कि जिला प्रशासन के खिलाफ आंदोलन करने की विधि भरपूर कोशिश की ग्राम प्रधान रहते हुए अपने ग्राम पंचायत को मुख्यमंत्री का पुरस्कार भी दिलवाया है।

ऐसे में वह बसपा के लिए काफी उपयोगी साबित हो सकते हैं। बहुजन समाज पार्टी की जिला इकाई ने जिला पंचायत उम्मीदवारों की तीसरी सूची में 6 उम्मीदवारों की घोषणा की है, जिसमें बरहनी सेक्टर नंबर 2 से प्रधान संघ के अध्यक्ष प्रभात सिंह उर्फ अनुज की माता आशा देवी, नियमताबाद सेक्टर 2 से सुनीता पटेल, नियमताबाद सेक्टर 3 से शमशेर सिंह चौहान, चंदौली सेक्टर नंबर 2 से अशोक त्रिपाठी उर्फ छोटू, चहनिया सेक्टर 1 शशिबाला और चहनिया सेक्टर 3 से नीलम गुप्ता को उम्मीदवार बनाया है।

बसपा के समर्थन के बाद प्रधान संघ के जिला अध्यक्ष अनुज सिंह ने कहा कि वह अपनी माता की जीत के लिए आश्वस्त हैं, क्योंकि उनका नाम और काम किसी की परिचय का मोहताज नहीं है। इस इलाके के लोगों ने बाहुबली को और उनके लोगों के चेहरे को कायदे से पहचान लिया है और जनता धीरे-धीरे उन्हें नकारने लगी है।