चंदौली जिले की चकिया कोतवाली पुलिस ने सोमवार को बोदलपुर गांव के पास से 15 हजार के इनामी पशु तस्कर को गिरफ्तार किया। उसके विरुद्ध तस्करी के आधा दर्जन मुकदमे विभिन्न थानों में दर्ज हैं। तस्करी में सक्रिय भागीदारी पर हाल ही में एसपी के निर्देश पर आरोपित को गैंगस्टर एक्ट में निरुद्ध किया गया था।

मामले की जानकारी देते हुए सीओ केपी सिंह ने बताया कि शातिर पशु तस्कर राजेश यादव उर्फ टेनी बोदलपुर गांव का निवासी है।

 

कोतवाल मिथिलेश मिश्र मय दलबल शिकारगंज इलाके में गश्त कर रहे थे। मुखबिर से सूचना मिली कि 15 हजार का इनामी पशु तस्कर बोदलपुर गांव के पास कहीं जाने की फिराक में बैठा है। पुलिस टीम पहुंची तो तस्कर पुलिस को देख भागने लगा। पुलिसकर्मियों ने पीछा कर उसे पकड़ लिया।

 

सीओ ने बताया वर्ष 2015 में तस्करी का धंधा शुरू किया। मामला पकड़ में आने के बाद राजेश के विरुद्ध कोतवाली में गोवध निवारण अधिनियम व पशु क्रूरता का मुकदमा दर्ज किया गया। पुलिस ने निगरानी कड़ी की तो राजेश ने इलाका छोड़ दिया और नौगढ़ के रास्ते धंधा जारी रखा। तस्करी के धंधे में लगातार सक्रियता को देखते हुए गैंगस्टर की कार्रवाई की गई। इसके बाद से वह फरार चल रहा था।

टीम में शिकारगंज चौकी प्रभारी वीरेंद्र सिंह, मिथिलेश तिवारी, विजय बहादुर सिंह, शमशेर बहादुर, जिलाजीत सरोज शामिल थे।