चन्दौली जिले के पुलिस अधीक्षक हेमन्त कुटियाल द्वारा पुलिस लाइन चन्दौली में पुलिस स्मृति दिवस के अवसर पर अपने कर्तव्य पथ पर बलिदान हुए भारतीय पुलिस बल के 292 पुलिसजनों को भावभीनी श्रद्धांजलि दी गयी, जिसमें उ0प्र0 पुलिस के 05 वीर शहीद जवान भी शामिल हैं।

01 सितम्बर 2018 से 31 अगस्त 2019 तक शहीद हुए जवानों के बारे में अधीनस्त अधिकारी/कर्मचारीगण को शहीद वीर जवानों की गाथा बताते हुए कहा कि मातृभूमि की रक्षा के लिए प्राणों का भी उत्सर्ग कर देने वाले बहादुरों का बलिदान सदैव हमें अपनें कर्तव्यों के प्रति दृढ़ रहनें की प्रेरणा देता है। आइए उन बहादुरों को “शत्-शत् नमन” करें जिनके लिए अपने कर्तव्य का पालन प्राणों से भी अधिक प्रिय रहा। इन वीर जवानों से हम सब भी सदैव अपने कर्तव्य व दायित्व को पूर्ण निष्ठा एवं ईमानदारी के साथ निर्वहन करने की प्रेरणा लें।

इस अवसर पर अपर पुलिस अधीक्षक चन्दौली प्रेमचन्द, अपर पुलिस अधीक्षक आपरेशन वीरेन्द्र यादव तथा समस्त क्षेत्राधिकारी एवं पुलिस कार्यालय/लाइन में कार्यरत समस्त अधिकारी/कर्मचारीगण मौजूद थे तथा सभी के द्वारा शहीदों को श्रद्धा सुमन अर्पित किया गया।

अवगत कराना है कि पुलिस स्मृति दिवस केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल के उन 10 वीर जवानों की याद में मनाया जाता है जिन्होंने 21 अक्टूबर सन् 1959 को भारत के उत्तरी सीमा लद्दाख के हाॅटस्पिंग में, समुद्र तल से लगभग 10 हजार फिट की ऊंचाई पर हिमाच्छादित जनहीन क्षेत्र में चीनी सैनिकों के कपटपूर्ण किये गये हमले को निष्प्रभावी कर अपनें प्राणों की आहुति दी थी। 21 अक्टूबर को प्रतिवर्ष उत्तर प्रदेश पुलिस बल के सदस्य विगत एक वर्ष में कर्तव्य पथ पर शहीद हुए अपने साथियों को श्रद्धांजलि देने हेतु स्मृति-दिवस का आयोजन करते हैं।