चंदौली जिले के अलीनगर थानाक्षेत्र के जीवनपुर गांव के दलित बस्ती में मतदाताओं को नोट देकर एक दिन पहले ही अंगुली में अमिट स्याही लगाने वाले आरोपित पूर्व प्रधान छोटेलाल तिवारी को पुलिस ने रविवार की सुबह गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने इस मामले में सात नामजद व कई अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। उधर, जिला निर्वाचन अधिकारी के निर्देश पर पीड़ित मतदाताओं को रविवार को पुलिस सुरक्षा के तहत बूथों पर ले जाकर मतदान कराया गया।

 

शनिवार की रात एक प्रत्याशी के समर्थन में जीवनपुर गांव के पूर्व प्रधान छोटेलाल तिवारी अपने कुछ साथियों के साथ मिलकर नोट के बदले दलित बस्ती के मतदाताओं की अंगुली में अमिट स्याही लगा रहा था। जानकारी होने पर सकलडीहा सपा विधायक प्रभुनारायण सिंह यादव, सपा जिलाध्यक्ष सत्यनारायण राजभर व बसपा जिलाध्यक्ष घनश्याम प्रधान समेत दर्जनों कार्यकर्ताओं ने रात में ही अलीनगर थाने में धरना प्रदर्शन किया। देर रात लगभग डेढ़ बजे जिला निर्वाचन अधिकारी नवनीत सिंह चहल ने लोगों को वोट दिलवाने और आरोपितों के खिलाफ कार्रवाई का आश्वासन देकर शांत कराया।

पुलिस ने पूर्व प्रधान छोटेलाल तिवारी, अमन तिवारी, कतवारू तिवारी समेत सात लोगों के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज किया। पुलिस ने रविवार की सुबह जीवनपुर चौराहे से आरोपित पूर्व प्रधान को गिरफ्तार कर लिया गया। वहीं सीओ सदर त्रिपुरारी पांडेय ने जिला निर्वाचन अधिकारी के निर्देश पर अंगुली पर अमिट स्याही लगे लगभग एक दर्जन लोगों को बूथों पर ले जाकर मतदान कराया।

इस संबंध में थानाध्यक्ष अश्वनी चतुर्वेदी ने बताया कि आरोपित पूर्व प्रधान छोटेलाल तिवारी को गिरफ्तार कर लिया गया है। शेष आरोपितों के गिरफ्तारी के लिए दबिश दी जा रही है।