चंदौली जिले के मुख्य चिकित्साधिकारी डा. आरके मिश्र ने गुरुवार को दो चिकित्साधिकारियों का मार्च माह का वेतन रोक दिया। एक सप्ताह में स्पष्टीकरण न देने पर उनके खिलाफ शासन को पत्र लिखा जाएगा। ग्रामीणों की शिकायत पर सीएमओ ने यह कार्रवाई की।

सकलडीहा के माटीगांव निवासी नागेंद्र प्रताप सिंह ने कहा गांव में नवीन पीएचसी है। यहां तैनात चिकित्सा प्रभारी अक्सर गायब रहते हैं। गांव के लोगों को भी इस केंद्र का लाभ नहीं मिल रहा है। सीएमओ ने सकलडीहा सीएचसी प्रभारी से जांच कराई तो वे गायब मिले। इस पर उनका एक माह का वेतन अवरुद्ध कर दिया गया।

इसी तरह कंदवा नवीन पीएचसी की शिकायत थी। यह केंद्र सप्ताह में एक दो दिन ही खुलता है, बाकी दिनों इस पर तालाबंदी रहती है। कई बार इसकी शिकायत आई, सीएमओ ने चेतावनी पत्र भी जारी किया लेकिन कार्य में सुधार नहीं आया। सीएमओ ने यहां के प्रभारी चिकित्सा अधिकारी का इस माह का वेतन रोक दिया। दोनों से एक सप्ताह में स्पष्टीकरण मांगा गया है।

सीएमओ डा. मिश्र के अनुसार दोनों स्वास्थ्य केंद्रों की काफी शिकायतें हैं। इन्हें सुधरने की हिदायत भी दी गई लेकिन कोई चिकित्साधिकारी अस्पताल में नियमित नहीं बैठ रहा है। बताया अन्य नवीन स्वास्थ्य केंद्र, पीएचसी, सीएचसी की जांच कराई जा रही है। शिकायत मिलने पर कार्रवाई की जाएगी।