अब कलेक्टर यादव के भी दो मंजिला घर की हो गयी कुर्की, ये हैं गंभीर आरोप

चंदौली जिले के सैयदराजा थाना क्षेत्र के जेवरियाबाद में गौ तस्करी के अभियुक्त की संपत्ति कुर्क करने की कार्यवाही एसडीएम और सदर सैयदराजा थाना प्रभारी की उपस्थिति में की गई। इस दौरान उसकी लाखों की सम्पत्ति को कुर्क करने की कार्रवाई की गयी।

बताते चलें कि पुलिस महानिदेशक उत्तर प्रदेश लखनऊ के निर्देशानुसार पुलिस अधीक्षक हेमंत कुटियाल द्वारा चलाए गए अभियान के दौरान के क्रम में शातिर अपराधियों तथा अपराध कार्य करके अवैध संपत्ति अर्जित की गई अचल संपत्ति को उत्तर प्रदेश गिरोह बंद एवं समाज विरोध क्रियाकलाप अधिनियम 1986 की धारा 14 (1) के अंतर्गत कुर्क किया जा रहा है। इसी क्रम में सैयदराजा पुलिस द्वारा एक गैंगस्टर की करीब 30,75000 की संपत्ति को कुर्क करने की कार्रवाई की गई।


बताया जा रहा है कि जेवरियाबाद के भुवालपुर ग्राम परगना नरहन स्थित अभियुक्त बृजेश यादव उर्फ कलेक्टर यादव पुत्र छांगुर यादव का दो मंजिला पैतृक आवास, जिसकी चौहद्दी पूरब घासी यादव का मकान, पश्चिम राजेश यादव वगैरह का मकान, उत्तर खाली जमीन पवन कुमार सिंह ,दक्षिण सोहन खरवार का मकान स्थित है। जिसकी अनुमानित लागत ₹30लाख बतायी जा रही है। इसे कुर्क कर लिया गया है।

इसके साथ साथ एक अदद मोटरसाइकिल CT 100 UP Y 8876, जिसकी कीमत 75,000 बतायी जा रही है, को कुर्क करने की कार्यवाही की गई है।

इस दौरान बताया गया कि अभियुक्त बृजेश यादव उर्फ कलेक्टर यादव पर पशुओं की तस्करी करके यह सम्पत्ति अर्जित की गयी है। इस संबंध में कई अभियोग पंजीकृत हैं, अभी उक्त के विरुद्ध गैंगेस्टर की कार्यवाही भी की जा चुकी है तथा अभियुक्त द्वारा गौ तस्करी करके अर्जित की गई संपत्ति को कुर्क करने की कार्यवाही की गई है।

इस दौरान सदर एसडीएम विजय नारायण सिंह व जिले की भारी मात्रा में पुलिस फोर्स मौके पर पहुंचकर कुर्क की कार्यवाही की।

इस संबंध में सैयदराजा थाना प्रभारी लक्ष्मण पर्वत ने बताया कि सदर एसडीएम के उपस्थिति में गोतस्करी के अभियुक्त बृजेश यादव उर्फ कलेक्टर यादव संपत्ति कुर्क करने की कार्यवाही की गई है।