10 केन्द्रों पर 531 लोगों का हुआ टीकाकरण, मिला सकारात्मक रिजल्ट

चंदौली जिले के अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ आर बी शरण ने बताया कि शुक्रवार को जिले के 10 केन्द्रों पर 13 सत्र का आयोजन किया गया जिसमें 13 टीमों द्वारा जनपद में 1070 लाभार्थियों का टीकाकरण के लक्ष्य में 531 लोगों को प्रतिरक्षित किया गया । नौगढ़ में 80, चकिया प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर 24, जिला चिकित्सालय पर 37, शहबगंज में 69, नियमतबाद में 54, चंदौली में 25, जिला अस्पताल में 51, बरहनी में 89 और राज्यकीय महिला चिकित्सालय में 55 एवं भोगवारा मे 47 को लोगो को टीका लगाया गया।


अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी प्रशासन / कोविड नोडल अधिकारी डॉ डी के सिंह ने बताया कि टीका लगवाने से पूर्व यदि एलर्जी, बुखार, रक्त बहने या रक्त पतला करने की कोई दवा ले रहे हैं, या प्रतिरक्षा क्षमता कम है तो संबंधित स्वास्थ्य अधिकारी को इसकी जानकारी दें। गर्भवती या स्तनपान करा रही महिलाओं को भी टीका लेने से पहले स्वास्थ्य अधिकारी को जानकारी देनी होगी । साथ ही 18 वर्ष से कम उम्र के बच्चों को टीका नही दिया जायेगा और उससे अधिक उम्र के लोगों टीका ले सकते है । साथ ही यह टीका उन लोगों को नहीं लगना है जिन्हें पहली खुराक के बाद गंभीर रूप से एलर्जी हुई हो। इसके लिए चिकित्सक से परामर्श अवश्य लें।


प्रतिरक्षित लाभार्थियों में आज का पहला टीका मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ आर के मिश्रा को लगा उन्होने कहा की यह टीका सामान्य टीके जैसा ही हैं कोविड – 19 का यह टीका सबसे सुरक्षित टीका है। यह शरीर पर किसी तरह का प्रतिकूल प्रभाव जैसा महसूस नहीं हो रहा है |

डॉ डी के सिंह ने कहा की टीका लगने के बाद भी आज के आयोजन का निरीक्षण कर रहा हूँ ,कोई दिक्कत नहीं है सब ठीक हैं |
डॉ आर बी शरण ने बताया कि कोविड टीका हम सब के सुरक्षा के लिए है टीका लगने के बाद किसी तरह की कोई परेशानी नहीं हुई | मैं बिलकुल ठीक हूँ