आजीवन कारावास की सजा काट कर आए अपराधी ने सिपाही पर किया हमला, फिर गया जेल

चंदौली जिले के धीना थाना क्षेत्र के कमालपुर चौकी प्रभारी को मिली सूचना के आधार पर पूर्व में सजायाफ्ती अपराधी को नाजायज चाकू के साथ पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

बताते चलें कि चंदौली जिले में अपराधियों पर अंकुश लगाने में पुलिस विभाग द्वारा चलाए जा रहे अभियान के क्रम में धीना थाना क्षेत्र के कमालपुर चौकी प्रभारी को मुखबिर से मिली सूचना के आधार पर जब वह मौके पहुंचे तो हाथ में चाकू लेकर हरिवंश उपाध्याय के घर के सामने से आने जाने वाले लोगों को गाली गलौज कर रहा था।

पुलिस को देखते ही गाली देते हुए अचानक दौड़कर आरक्षी प्रमोद कुमार के ऊपर जान से मारने की नियत से चाकू से हमला कर दिया। इसके बाद आरक्षी द्वारा हिम्मत से अपने आप का बचाव किया गया और मौके पर मौजूद पुलिस बल का प्रयोग कर उसे गिरफ्तार कर लिया।

गिरफ्तार अभियुक्त के बारे में पूर्व में आजीवन कारावास की सजा काट कर कुछ ही दिन पहले जेल से छूटा है।

गिरफ्तार अभियुक्त से उसके द्वारा इस प्रकार के कृत्य के कारण पूछे जाने पर बताया कि उसने हरिवंश उपाध्याय के पिता चंद्रभूषण की हत्या की थी। इसलिए लोगों द्वारा मुझे जेल भिजवाया गया था, जिसमें में सजा काट डाला हूं। परंतु पुलिस ने योजना पर पानी फेर दिया। इसीलिए गुस्से में आकर पुलिस के ऊपर हमला बोल दिया। गिरफ्तार अभियुक्त के खिलाफ धीना थाना में मुकदमा पूर्व से पंजीकृत है ।

इस संबंध में धीना थाना प्रभारी अतुल कुमार ने बताया कि देव शरण उपाध्याय पुत्र राम जन्म निवासी नई टोला, कस्बा कमालपुर थाना धीना जनपद चंदौली का है जिसके खिलाफ पूर्व में भी 1981 से अब तक के 6 मुकदमे दर्ज किए गए हैं। गिरफ्तार व्यक्ति सजा काट कर आया था। उसके बाद उसके द्वारा मुख्य आरक्षी पर हमला कर दिया। जिसे गिरफ्तार कर जेल भेजने की कार्यवाही की जा रही है।