सामने लोकमान्य तिलक एक्सप्रेस देख पटरी के बीच लेटा धर्मेन्द्र, उपर से गुजर गयी ट्रेन

चंदौली जिले के पंडित दीनदयाल उपाध्याय रेलवे स्टेशन के यार्ड में सोमवार शाम ड्यूटी से घर लौट रहे रेलकर्मी धर्मेंद्र के सामने अचानक तेज रफ्तार ट्रेन आ गयी। सूझबूझ का परिचय देते हुए वह रेल पटरी के बीच में लेट गए। ट्रेन उनके ऊपर से निकल गई। उनकी जान तो बच गयी लेकिन वह घायल हो गए। इसके बाद आरपीएफ जवानों ने उन्हें लोको अस्पताल में भर्ती कराया।

रेलवे के इंजीनियरिंग विभाग के पीडब्ल्यूआई में कार्यरत 32 वर्षीय धर्मेन्द्र सोमवार शाम ड्यूटी के बाद रेलवे लाइन के किनारे से पैदल ही घर लौट रहे थे। अचानक उनके पीछे लोकमान्य तिलक एक्सप्रेस आ गयी। इससे घबड़ाकर वह रेल पटरी के बीच में लेट गए। ट्रेन उनके ऊपर से निकल गई।

हालांकि यह नजारा देख यार्ड में कार्यरत रेलकर्मियों की सांसें थम गईं। ट्रेन गुजरने के बाद वे मौके पर पहुंचे। धर्मेंन्द्र को जीवित देख उनकी जान में जान आयी। सूचना मिलने के बाद आरपीएफ जवान मौके पर पहुंचे। उन्होंने घायल रेलकर्मी को लोको अस्पताल में भर्ती कराया। फिलहाल अब वह खतरे से बाहर हैं।

इस संबंध में आरपीएफ इंस्पेक्टर संजीव कुमार ने बताया कि रेलकर्मी ने रेल पटरी के मध्य लेटकर अपनी जान बचाई। उसे घायलावस्था में लोको अस्पताल में भर्ती कराया गया है।