अफवाहों की रोकथाम हेतु निगरानी समितियों से अधिकारी कर रहे हैं सीधा संवाद

चंदौली जिले के तहसील नौगढ़ में अफवाहों की रोकथाम हेतु निगरानी समितियों के माध्यम से लोगों को जोड़ने और टीका लगवाने के लिए प्रेरित करने हेतु खुद आगे आए। प्राथमिक विद्यालय अमृतपुर में आयोजित चौपाल में पहुंचते ही कहा अब आप लोग सुनाइए अपने मन की बात,

जिलाधिकारी ने वैक्सीन के बारे में लोगों के बीच फैली भ्रांतियों एवं गलत अफवाहों को दूर करने के बारे में अपील करते हुए बताया कि वैक्सीन किस तरह काम करती है और किस तरह यह कोरोना से सुरक्षा करती है।

सीएचसी के अधीक्षक डॉ अवधेश पटेल ने बताया कि वैक्सीन लगवाने के बाद हल्का सा बुखार आ सकता है, परंतु यह बुखार वैक्सीन के काम करने का संकेत है ना की किसी बीमारी का, इससे घबराने की कोई जरूरत नहीं है।

जिलाधिकारी ने कहा कि वैक्सीन पूरी तरह से सुरक्षित है, वैक्सीन की दोनों डोज लेना बहुत जरूरी है जो लोग पहली डोज ले चुके हैं और दूसरी डोज जरूर लगवाएं। जिन लोगों ने वैक्सीन लगवायी है वह इस दूसरी लहर में पूरी तरह से सुरक्षित है। कहा कि वैक्सीन से शरीर में प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है जिन लोगों ने वैक्सीन लगवा लिया है यदि उन्हें कोरोना हो भी जाता है तो वह थोड़े ही समय में ठीक हो जाते हैं परंतु जिन्होंने वैक्सीन नहीं लगवायी उनके लिए यह घातक साबित हो सकता है। इसलिए सभी लोग वैक्सीन अवश्य लगवाएं।

इस दौरान एनम सारिका साह और आशा उषा देवी ने भी निगरानी समिति के सदस्यों को वैक्सीन के बारे में जानकारी दिया। गांव के प्रधान चंद्रशेखर यादव ने विद्यालय पर बने वैक्सीन सेंटर पर वैक्सीन की पहली डोज लगवायी । चौपाल के दौरान उन्होंने अधिकारियों को बताया वैक्सीन लगवाने से हमको कोई भी दिक्कत नहीं हुयी है। डीएम को आश्वासन दिया कि वह गांव के सभी 45 वर्ष से अधिक के व्यक्तियों को वैक्सीन लगवाएंगे। लोगों के बीच फैली भ्रान्तियो को दूर करेंगे।

इस मौके पर सीएमओ बीपी दिवेदी, डीपीआरओ ब्रह्मचारी दुबे, एसडीएम डॉ अतुल गुप्ता,खंड विकास अधिकारी सुदामा यादव, चिकित्सा अधीक्षक अवधेश पटेल, एडीओ पंचायत प्रेमचंद के अलावा अन्य अधिकारी भी मौजूद थे।