DM चंदौली ने जिले की परियोजनाओं की समीक्षा के दौरान कई अफसरों तो दी चेतावनी

चन्दौली जिले में कोरोना काल के दौरान जनपद में विकास का पहिया चलता रहे व विकास कार्यों में अपेक्षित प्रगति होती रहे इस संबंध में जिलाधिकारी नवनीत सिंह चहल की अध्यक्षता में जनपद में गतिमान 50 लाख से अधिक की परियोजनाओं एवं विभिन्न विकास कार्यों की मासिक समीक्षा बैठक विकास भवन में सम्पन्न हुई।

विकास कार्यों की मासिक समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी ने कहा कि समस्त संबंधित विभाग व कार्यदायी संस्थाओं के द्वारा निर्माण कराये जा रहे परियोजनाओं में अपेक्षित प्रगति लाने हेतु गुणवत्तापूर्ण व समय सीमा को ध्यान में रखते हुए तत्परता से कार्य करायें जाने के निर्देश दिये।

उन्होंने कहा कि कार्य के दौरान कोविड-19 के गाइड लाइन का पालन, सोशल डिस्टेंशिंग व अन्य आवश्यक सुरक्षात्मक उपाय अवश्य किये जाय। समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी ने निदेर्शित करते हुये कहा अवशेष आंगनवाड़ी केन्द्रों का निर्माण सभी गतिरोधों को दूर कर शीघ्रतापूर्वक पूर्ण करायें। अनारम्भ कार्यों का टेन्डर प्रक्रिया पूर्ण कराते हुए निर्माण कार्यों को अविलम्ब शुरू कराये जाने के निर्देश दिये। कहा इसमें अब लापरवाही क्षम्य नहीं होगी।

जनपद में लाल श्रेणी के बच्चों को कुपोषण मुक्त करने हेतु लगातार प्रभावी कार्यवाही करने के निर्देश दिये। जिला कार्यक्रम अधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि लाल श्रेणी के बच्चों को एडाप्ट करवाकर उनके पोषण की कार्यवाही तत्परता से करायी जाय। जननी सुरक्षा योजना का भुगतान लंबित मामले न रहे भुगतान की प्रक्रिया शीघ्र पूर्ण कराने के निर्देश मुख्य चिकित्साधिकारी को दिए।


जनपद में निर्माण कराये जा रहे हेल्थ एवं वेलनेस सेन्टर का निर्माण समय से करा लिये जाने के निर्देश संबंधित निर्माण एजेंसियों को दिये। मुख्यमंत्री समग्र ग्राम योजना के तहत सम्पर्क मार्गों के अवशेष सड़कों के निर्माण का कार्य प्राथमिकता के आधार पर पूर्ण कराये जाने के निर्देश अधिशासी अभियन्ता पी0डब्लू0डी0 को दिये। इसी प्रकार जनपद में निर्मित की जने वाली सड़कों को समय सीमा के अंतर्गत प्रक्रिया पूर्ण कराते हुए निर्माण कार्य में अपेक्षित प्रगति लाये जाने के निर्देश अधिशासी अभियन्ता पी0डब्लू0डी0 को दिये।

चहल ने बैठक के दौरान चन्दौली मझवार ओवरब्रीज के निर्माण, रिटेंगि वाल, सड़क स्लोप इत्यादी के निर्माण में अपेक्षित तेजी लायें जाने के निर्देश सेतु निगम को दिया। कहा ओवरब्रीज निर्माय कार्य अत्यन्त धीमा चल रहा है, इसको लेकर जिलाधिकारी ने सेतु निगम के अधिकारी पर बेहद नाराजगी जाहीर करते हुये कहा कि आम जनता को काफी दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है।

जिलाधिकारी ने चेताते हुये कहा कि अब आगे लापरवाही बर्दास्त नही की जायेगी। माहामाया पालिटेक्निक में चल रहे निर्माण कार्य में सुधारात्मक कार्य को अविलम्ब सुधार करा लिये जाने के साथ ही गुणवत्ता पर विशेष ध्यान देने के निर्देश सीएनडीएस के अभियंता को दियें। इको टूरिज्म के रूप में विकसित किये जा रहे देवदरी, राजदरी में कार्य को प्रारंभ करते हुए अपेक्षित प्रगति लाने के निर्देश दिए। इस अवसर पर अधिशासी अभियंता जलनिगम ने बताया कि सतपोखरी पेयजल योजना का कार्य माह सितम्बर तक व जरहर पाइप पेयजल योजना का कार्य दिसम्बर तक पूर्ण करा लिया जाएगा। अन्य पाइप पेयजल योजनाओं को भी तेजी से कार्य कराते हुए निर्माण कार्य को पूर्ण कराने के निर्देश दिये।

उ0प्र0 राजकीय निर्माण निगम को निदेर्शित करते हुये कहा कि कलेक्ट्रेट भवन का निर्माण मानक के अनुरूप कार्य तेजी से पूर्ण कराने के निर्देश दिये। साथ ही आवास विकास परिषद द्वारा अग्निशमन केन्द्र, सकलड़ीहा के रैथा में निर्माणधीन कार्यो सहित अन्य सभी निर्माण एंजेसियों को निदेर्शित करते हुये कहा कि निर्माण कार्यो में समय सीमा के साथ ही गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखा जाय।

बैठक के दौरान मुख्य विकास अधिकारी डा0 एके श्रीवास्तव, मुख्य चिकित्साधिकारी, जिला विद्यालय निरीक्षक, जिला अर्थ एवं संख्याधिकारी, सहित विभिन्न निर्माण एंजेसियों के अभिन्ता व अधिकारी उपस्थित रहे।

Ads by Google Ads By  Google Download The App Now