नए डीएम के तेवर देख तेजी दिखा रहे हैं डीपीआरओ साहब, अधूरे शौचालयों पर दे रहे हैं धमकी

चंदौली जिले के तहसील नौगढ़ में ओडीएफ होने के बाद भी शौचालय अधूरा होने का हलफनामा रविवार को दौरे पर आए नए जिलाधिकारी संजीव सिंह के हाथ में पहुंचते ही पंचायती राज विभाग हरकत में आ गया है। जब तक डीएम का कुछ एक्शन होता इसके पहले डीपीआरओ ब्रह्मचारी दूबे विकासखंड नौगढ़ के ग्राम पंचायत बजरडीहा और विशेषरपुर गांव में धमक पड़े और सत्ता से बेदखल हो चुके ग्राम प्रधानों और पंचायत सचिवों को अल्टीमेटम देते हुए 15 दिन के भीतर शौचालय पूर्ण नहीं होने पर थाने में एफआईआर कराने की चेतावनी दे दिया है।

सुबह डीपीआरओ ब्रह्मचारी दूबे एडीओ पंचायत प्रेमचंद्र को साथ लेकर बजरडीहा गांव में पहुंचे। वहां स्वच्छ भारत मिशन के तहत आधे-अधूरे बने शौचालयों को देख महिला प्रधान के प्रतिनिधि राजनाथ यादव और पंचायत सचिव महेंद्र प्रसाद को मौर्य को शौचालयों का काम पूरा करने की हिदायत दी।

इसके बाद ग्राम पंचायत विशेषरपुर के टोले में पहुंचे। वहां गांव में बने शौचालयों का निर्माण अधूरा होने पर पंचायत सचिव गुड्डू प्रसाद से इस बारे में पूछताछ किया और धमकाया कि 15 दिन के भीतर शौचालयों का जिओ टैग और निर्माण शत-प्रतिशत पूर्ण करा लिए जाएं, अन्यथा कार्रवाई तय है और थाने में मुकदमा भी दर्ज कराएंगे।

जांच और कार्रवाई से जिम्मेदारों में बेचैनी बढ़ गई है। इस संबंध में डीपीआरओ ब्रह्मचारी दुबे ने बताया कि नौगढ़ में सात प्रधानों और दो पंचायत सचिव आशीष साहनी और संजीव सिंह के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया जा चुका है।