अब आरपार की लड़ाई के मूड में हैं किसान नेता, ऐसा है ऐलान

चंदौली जिले के अदसड़ गांव कर्मनाशा नदी में लगे पंप कैनाल को चालू कराने एवं मुआवजे को लेकर किसानों का धरना तीसरे दिन रविवार को भी जारी है। किसान अपनी मांग को लेकर जिद पर हैं और अधिकारियों की मनमानी व झूठे वायदे के खिलाफ मुखर हो रहे हैं।

किसानों के मंडल अध्यक्ष मनमन सिंह ने कहा कैनाल तो चालू नहीं हो सका। किसानों का मुआवजा भी अब तक नहीं मिला है। किसान अपनी धान की फसल को बचाने को परेशान हैं। अधिकारियों को किसानों की समस्या से कोई सरोकार ही नहीं है। सारे लोग केवल कोरोना का नाम लेकर बहाने बना रहे हैं।

 

जिलाध्यक्ष शेषनाथ यादव ने कहा कि आज किसानों को पानी की आवश्यकता है तो नहरों से पानी गायब है। पंप कैनाल का कार्य पूर्ण नहीं होना किसानों के लिए दुखद है। अदसड़, चारी के पंप कैनाल से नरवन के किसान सिचाई को लेकर सपना संजोए थे लेकिन उनका सपना साकार नहीं हो पा रहा है। जब तक कोई सक्षम अधिकारी आकर समस्या का समाधान नहीं करते अनवरत धरना जारी रहेगा।

 

मौके पर अंजनी तिवारी, दिनेश कुमार, पप्पू प्रजापति, अखिलेश्वर कुमार, रतन वर्मा, प्रमोद, निरंजन कुमार, अमीत गुप्ता, अंबरीश सिंह आदि किसान शामिल थे।