ऐसा दिखा माहौल जब पहले दिन खुले डिग्री कालेज, हर कोई सावधान

चंदौली जिले में कोरोना संक्रमण के चलते आठ माह से बंद कॉलेज सोमवार को खुल गए। कालेज खुलते ही छात्र-छात्राओं की चहल कदमी से परिसर गुलजार हो गये। इस दौरान कोविड-19 के प्रोटोकाल के तहत कालेज प्रशासन की ओर से प्रबंध किए गए हैं।

बताया जा रहा है कि शासनादेश के नियमानुसार कालेज में पचास प्रतिशत छात्र-छात्राओं की ही कक्षाएं चलेंगी। कक्षाओं को सैनिटाइज किए जाने के साथ प्रवेश द्वार पर थर्मल स्क्रीनिंग की भी व्यवस्था की गई थी। सोमवार को विद्यार्थियों की संख्या काफी थी। कक्षाओं में दूरी बनाकर विद्यार्थियों को बैठाया गया था।

कोरोना संक्रमण काल में आठ माह बाद सोमवार को पीडीडीयू नगर स्थित विक्रम सिंह कन्या महाविद्यालय में दो सौ छात्राएं पहुंची। इस दौरान प्रवेश द्वार पर बनाए गए कोविड हेल्प डेस्क पर सभी की थर्मल स्क्रीनिंग की गई और हाथों को सैनिटाइज किया गया। बाद में सोशल डिस्टेंसिंग के साथ सभी छात्राओं को कक्षाओं में बैठाया गया।

महाविद्यालय के प्राचार्य डा. रनिता श्रीवास्तव ने बताया कि सभी छात्राओं को मास्क पहनने के साथ पानी की बोतल घर से लाने के लिए निर्देशित किया गया है। साथ ही छात्राओं को कालेज भेजे जाने के लिए अभिभावकों से सहमति पत्र पर हस्ताक्षर लेने के लिए कहा गया है।

चकिया स्थित सावित्रीबाई फुले राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय में सोमवार को महाविद्यालय खुलने पर 250 छात्राएं पहुंची। यहां करीब 14 सौ छात्राएं पंजीकृत हैं। महाविद्यालय की प्राचार्य डॉ. संगीता सिन्हा ने बताया कि कोविड-19 के प्रोटोकाल का पालन किया जा रहा है। शिकारगंज संवाददाता के अनुसार क्षेत्र के हेतिमपुर स्थित बाबा जागेश्वर नाथ स्नातकोत्तर महाविद्यालय के प्राचार्य इंजीनियर प्रताप नारायण सिंह ने बताया कि सोमवार को 35 विद्यार्थी पहुंचे थे। महाविद्यालय में 240 विद्यार्थी पंजीकृत हैं। बताया कि परिसर को पूरी तरह से सैनिटाइज किया गया है।

पीडीडीयू नगर स्थित एलबीएस डिग्री कालेज में दाखिले के लिए काउंसिलिंग चल रही है। यहां कक्षाएं चलाने की व्यवस्था पूरी कर ली गई है। इस महीने काउंसिलिंग पूरी होने के बाद कक्षाएं संचालित की जाएंगी।

प्राचार्य डॉ. सुरेंद्र मिश्र ने बताया कि काउंसिलिंग के बाद दिसंबर से कक्षाओं का संचालन शुरू करा दिया जाएगा। कक्षाएं और काउंसिलिंग एक साथ शुरू कराने से काफी भीड़ होगी। इसे देखते हुए कक्षाओं का संचालन अभी नहीं किया जा रहा है। विद्यार्थियों को ऑनलाइन पढ़ाई के लिए पाठ्य सामग्री मुहैया कराई जा रही है।

सकलडीहा पीजी कालेज में भी कक्षाओं का संचालन सोमवार से शुरू हो गया। पहले दिन विद्यार्थियों की संख्या कम थी। लेकिन कालेज प्रबंधन की ओर से कोविड-19 को देखते हुए सावधानी बरती गई। सैनिटाइजर और मास्क लगाने के बाद ही कक्षाओं में प्रवेश दिया गया। प्राचार्य डा. प्रमोद कुमार सिंह ने बताया कि पहले दिन सोमवार को विद्यार्थी ही आये थे। मास्क, सैनिटाइज समेत कोविड के अन्य प्रोटोकॉल का पालन किया जा रहा है।