पहले दिन प्राथमिक विद्यालय के बच्चों का तिलक लगाकर हुआ भव्य स्वागत, गुब्बारे से सजाया गया था स्कूल

चंदौली जिले के चकिया तहसील क्षेत्र में प्राथमिक विद्यालय आज सोमवार को खुले। कोविड-19 के चलते शासन के निर्देश पर बीते वर्ष 13 मार्च 2020 से बंद चल रहे प्राथमिक विद्यालय आज खुले तो बच्चे काफी उत्साह के बीच विद्यालय पहुंचे। वही शासन के निर्देश पर विद्यालय खुलने पर बच्चों के स्वागत की तैयारियां एक सप्ताह से की जा रही थी।

प्राथमिक विद्यालय चकिया, कम्पोजिट विद्यालय विठवल, प्राथमिक विद्यालय मंगरौर, सैदूपुर, इलिया, शहाबगंज, बेलावर, उसरी आदि में विद्यालयों को गुब्बारों से सजाया गया था। कोविड-19 का पालन करने के लिए मास्क, सेनेटाईजर की तैयारी पहले से की गई थी। वहीं विद्यालय पहुंचने पर बच्चों को तिलक लगाकर उनके स्वागत की तैयारियां भी पूरे जोर शोर से किया गया था।

कक्षा 1 से 5 तक के बच्चे जैसे ही विद्यालय खुलते सुबह 9 बजे स्कूल पहुंचे तो सबसे पहले उन्हें तिलक लगाया गया। उनके हाथों को सेनेटराईजर कराया गया ।

फिर उसके बाद कोविड-19 को देखते हुए उन्हें मास्क का वितरण किया गया और एक दूसरे के बीच दूरी बनाकर बैठाया गया। पहली बार प्राथमिक विद्यालयों में बच्चों का इस तरह स्वागत और उनका अभिनंदन करने पर उनके खुशी का ठिकाना नहीं रहा।

वही बच्चों के स्वागत के बाद शासन के गाइडलाइन के अनुसार रोस्टर के मुताबिक उन्हें स्कूल आने की दिन और तिथि बताया गया। कक्षा 1 तथा 5 के अलावा शेष बच्चों को शेड्यूल समझा कर उन्हें घर वापस भेज दिया गया। वहीं स्कूल में लंबे अंतराल के बाद मिड डे मील बनाया गया। तथा मीनू के अनुसार बच्चों को फल का वितरण भी किया गया।

प्राथमिक विद्यालय मंगरौर के प्रधानाध्यापक दिनेश कुमार ने बताया कि सोमवार व बृहस्पतिवार को कक्षा 1 एवं 5 तथा मंगलवार व शुक्रवार को कक्षा दो तथा चार वहीं बुधवार व शनिवार को कक्षा 3 के बच्चों की पढ़ाई होगी। उन्होंने अभिभावकों को शासन के निर्देशानुसार इन तिथियों को ही अपने बच्चों को विद्यालय भेजने का अपील किया।