पकड़े गए कारोबारी

प्रदेश में जहरीली  शराब से मौतों को देखते हुए सदर क्षेत्राधिकारी के नेतृत्व में मुगलसराय कोतवाली पुलिस ने क्षेत्र के चौरहट स्थित सरकारी शराब की दुकान में बन रही नकली शराब की फैक्ट्री का भंडाफोड़ करते हुए भारी मात्रा में नकली शराब के साथ साथ पैकिंग बोतलों के साथ रैपर व ढक्कन के साथ 15 लीटर मिलावटी शराब के साथ 5 तस्करों को गिरफ्तार कर लिया है ।

बताया जा रहा है कि बिहार में शराबबंदी के बाद पड़ोसी राज्य के चंदौली जनपद में अवैध शराब के कारोबार का धंधा जोरों पर चल रहा है, जिस पर नकेल कसने के लिए क्षेत्राधिकारी सदर त्रिपुरारी पांडेय मुखबिर की सूचना पर रविवार की देर रात्रि मुगलसराय कोतवाली क्षेत्र के चौराहट स्थित चिंता देवी के नाम से आवंटित देसी शराब की दुकान के अंदर नकली शराब बनाने का धंधा चल रहा था।

छापेमारी टीम में मुगलसराय कोतवाली प्रभारी सहित पुलिस पहुंचकर नकली शराब बनाने वाले 5 लोगो के साथ, 360 शीशी मिश्रित आठ पेटी,422 शीशी देशी ब्लू लाइन दस पेटी शराब,15 लीटर मिलावटी शराब सहित भारी मात्रा में बार कोड के रैपर,ढक्कन तथा खाली शीशी बरामद किया।

इस संबंध में पुलिस अधीक्षक संतोष सिंह ने बताया कि प्रदेश में जहां जहरीली शराब से मौत हो रही है उसको देखते हुए पुलिस लगातार अवैध तस्करों पर कार्यवाही करते हुये शराब की लाइसेंसी दुकान के अंदर अवैध नकली शराब बनाने के धंधे का भंडाफोड़ किया है।

भारी मात्रा में नकली शराब के साथ शीशी, रैपर व ढक्कन तथा खाली शीशी बरसमद किया है। एसपी ने यह भी बताया कि आबकारी  विभाग के निष्क्रियता के चलते इस तरह के अवैध कारोबार फल फूल रहे हैं, जिसकी रिपोर्ट शासन को भेजी जा रही है। इसमें जो लोग शामिल होंगे उन पर भी कार्रवाई होगी।